Friday, August 12, 2022

11 हजार बोल्टेज की चपेट में आने से लाइनमैन की मौत, दो घण्टे तक पोल से लटकता रहा शव | #TEJASTODAY

ग्रामीणों ने लगाया लापरवाही का आरोप बेटे के ऊपर से उठा पिता का साया अतुल राय, नवनीत यादव जलालपुर, जौनपुर। थाना क्षेत्र के सेहमलपुर गांव में बुधवार की देर रात 11 हज़ार वोल्ट की चपेट में आने से पंधारी यादव (30) पुत्र स्व. गोगई यादव की मौत हो गयी। प्राप्त जानकारी के अनुसार पंधारी यादव के ढाई साल एवं डेढ़ माह के दो पुत्र थे। जो शट डाउन लेकर लाइट फॉल्ट सुधारने के लिए पोल पर चढ़े उतने में किसी ने फिटर से लाइट लगा दी जिससे लाइन मैन की करंट से मौत हो गई। घटना के लगभग चार घण्टे बाद भी शव पोल पर ही लटका हुआ था। बिजली निगम और प्रशासन का कोई भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा था। आक्रोशित ग्रामीण डीएम को मौके पर बुलाने की मांग कर रहे थे। जलालपुर उपकेंद्र से जुड़े सेहमलपुर गांव में रात आठ बजे 11 हज़ार वोल्ट की लाइन में फॉल्ट हो गया। ग्रामीणों की सूचना पर दलपत पट्टी गांव निवासी प्राइवेट लाइनमैन पंधारी यादव फॉल्ट सुधारने मौके पर पहुँचे। ग्रामीणों के मुताबिक उपकेंद्र पर सूचना देकर आपूर्ति बंद कराई गई। रात करीब साढ़े नौ बजे शट डाउन लेकर पंधारी यादव पोल पर चढ़कर फाल्ट सुधारने लगा। इसी दौरान अचानक बिजली चालू कर दी गई। हाईटेंशन करंट की चपेट में आने से पंधारी पोल पर ही चिपक गया। काफी देर तक उसका शव जलता रहा। आनन-फानन में ग्रामीणों ने दुबारा उपकेंद्र पर सूचना देकर बिजली बंद कराई, मगर तब तक पंधारी की मौत हो चुकी थी। उसका शव पोल के ऊपर ही तारों से चिपका रहा। सूचना पाकर ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। सैकडों की तादाद में जुटे ग्रामीण बिजली निगम पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा करने लगे। सूचना पाकर जलालपुर के प्रभारी एसओ केके गुप्ता भी मौके पर पहुंचे। ग्रामीणों को समझाने की कोशिश की, लेकिन ग्रामीण डीएम को मौके पर बुलाने की मांग कर रहे थे। उनका कहना था कि शट डाउन लेने के बाद भी बिजली चालू कर दी गई। उपकेंद्र के कर्मचारियों की लापरवाही से घटना हुई है। दोषियों पर सख्त कार्रवाई करते हुए मृतक के परिजनों को मुआवजा दिया जाए, इसके बाद ही वह शव पुलिस को ले जाने देंगे। रात साढ़े 11 बजे तक शव पोल पर ही लटक रहा था। बिजली निगम और प्रशासन का कोई भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा था।

ग्रामीणों ने लगाया लापरवाही का आरोप

बेटे के ऊपर से उठा पिता का साया

अतुल राय, नवनीत यादव
जलालपुर, जौनपुर। थाना क्षेत्र के सेहमलपुर गांव में बुधवार की देर रात 11 हज़ार वोल्ट की चपेट में आने से पंधारी यादव (30) पुत्र स्व. गोगई यादव की मौत हो गयी। प्राप्त जानकारी के अनुसार पंधारी यादव के ढाई साल एवं डेढ़ माह के दो पुत्र थे। जो शट डाउन लेकर लाइट फॉल्ट सुधारने के लिए पोल पर चढ़े उतने में किसी ने फिटर से लाइट लगा दी जिससे लाइन मैन की करंट से मौत हो गई। घटना के लगभग चार घण्टे बाद भी शव पोल पर ही लटका हुआ था। बिजली निगम और प्रशासन का कोई भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा था।

ग्रामीणों ने लगाया लापरवाही का आरोप  बेटे के ऊपर से उठा पिता का साया  अतुल राय, नवनीत यादव जलालपुर, जौनपुर। थाना क्षेत्र के सेहमलपुर गांव में बुधवार की देर रात 11 हज़ार वोल्ट की चपेट में आने से पंधारी यादव (30) पुत्र स्व. गोगई यादव की मौत हो गयी। प्राप्त जानकारी के अनुसार पंधारी यादव के ढाई साल एवं डेढ़ माह के दो पुत्र थे। जो शट डाउन लेकर लाइट फॉल्ट सुधारने के लिए पोल पर चढ़े उतने में किसी ने फिटर से लाइट लगा दी जिससे लाइन मैन की करंट से मौत हो गई। घटना के लगभग चार घण्टे बाद भी शव पोल पर ही लटका हुआ था। बिजली निगम और प्रशासन का कोई भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा था। आक्रोशित ग्रामीण डीएम को मौके पर बुलाने की मांग कर रहे थे। जलालपुर उपकेंद्र से जुड़े सेहमलपुर गांव में रात आठ बजे 11 हज़ार वोल्ट की लाइन में फॉल्ट हो गया। ग्रामीणों की सूचना पर दलपत पट्टी गांव निवासी प्राइवेट लाइनमैन पंधारी यादव फॉल्ट सुधारने मौके पर पहुँचे। ग्रामीणों के मुताबिक उपकेंद्र पर सूचना देकर आपूर्ति बंद कराई गई। रात करीब साढ़े नौ बजे शट डाउन लेकर पंधारी यादव पोल पर चढ़कर फाल्ट सुधारने लगा। इसी दौरान अचानक बिजली चालू कर दी गई। हाईटेंशन करंट की चपेट में आने से पंधारी पोल पर ही चिपक गया। काफी देर तक उसका शव जलता रहा। आनन-फानन में ग्रामीणों ने दुबारा उपकेंद्र पर सूचना देकर बिजली बंद कराई, मगर तब तक पंधारी की मौत हो चुकी थी। उसका शव पोल के ऊपर ही तारों से चिपका रहा। सूचना पाकर ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। सैकडों की तादाद में जुटे ग्रामीण बिजली निगम पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा करने लगे। सूचना पाकर जलालपुर के प्रभारी एसओ केके गुप्ता भी मौके पर पहुंचे। ग्रामीणों को समझाने की कोशिश की, लेकिन ग्रामीण डीएम को मौके पर बुलाने की मांग कर रहे थे। उनका कहना था कि शट डाउन लेने के बाद भी बिजली चालू कर दी गई। उपकेंद्र के कर्मचारियों की लापरवाही से घटना हुई है। दोषियों पर सख्त कार्रवाई करते हुए मृतक के परिजनों को मुआवजा दिया जाए, इसके बाद ही वह शव पुलिस को ले जाने देंगे। रात साढ़े 11 बजे तक शव पोल पर ही लटक रहा था। बिजली निगम और प्रशासन का कोई भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा था।

आक्रोशित ग्रामीण डीएम को मौके पर बुलाने की मांग कर रहे थे। जलालपुर उपकेंद्र से जुड़े सेहमलपुर गांव में रात आठ बजे 11 हज़ार वोल्ट की लाइन में फॉल्ट हो गया। ग्रामीणों की सूचना पर दलपत पट्टी गांव निवासी प्राइवेट लाइनमैन पंधारी यादव फॉल्ट सुधारने मौके पर पहुँचे। ग्रामीणों के मुताबिक उपकेंद्र पर सूचना देकर आपूर्ति बंद कराई गई। रात करीब साढ़े नौ बजे शट डाउन लेकर पंधारी यादव पोल पर चढ़कर फाल्ट सुधारने लगा। इसी दौरान अचानक बिजली चालू कर दी गई।

हाईटेंशन करंट की चपेट में आने से पंधारी पोल पर ही चिपक गया। काफी देर तक उसका शव जलता रहा। आनन-फानन में ग्रामीणों ने दुबारा उपकेंद्र पर सूचना देकर बिजली बंद कराई, मगर तब तक पंधारी की मौत हो चुकी थी। उसका शव पोल के ऊपर ही तारों से चिपका रहा। सूचना पाकर ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। सैकडों की तादाद में जुटे ग्रामीण बिजली निगम पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा करने लगे।

सूचना पाकर जलालपुर के प्रभारी एसओ केके गुप्ता भी मौके पर पहुंचे। ग्रामीणों को समझाने की कोशिश की, लेकिन ग्रामीण डीएम को मौके पर बुलाने की मांग कर रहे थे। उनका कहना था कि शट डाउन लेने के बाद भी बिजली चालू कर दी गई। उपकेंद्र के कर्मचारियों की लापरवाही से घटना हुई है।

दोषियों पर सख्त कार्रवाई करते हुए मृतक के परिजनों को मुआवजा दिया जाए, इसके बाद ही वह शव पुलिस को ले जाने देंगे। रात साढ़े 11 बजे तक शव पोल पर ही लटक रहा था। बिजली निगम और प्रशासन का कोई भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा था।

मुंगराबादशाहपुर, जौनपुर। स्थानीय थाना क्षेत्र के प्रयागराज मार्ग पर बुढ़िया के इनारा (पांडेयपुर) के पास बुधवार की सुबह मुंगराबादशाहपुर की ओर आ रहे तेज रफ्तार डम्फर की टक्कर से 35 वर्षीय बाइक चालक की ही मौत हो गई। जबकि बाइक पर पीछे बैठा 22 वर्षीय युवक गंभीर रूप से घायल हो गया। जानकारी के अनुसार ग्राम बरायी पटी, थाना सर्कुलहा, देवरिया निवासी 35 वर्षीय सत्येंद्र यादव पुत्र श्याम बदन यादव व ग्राम अलीपुर थाना मड़ियाहूं निवासी 22 वर्षीय शनि कुमार सरोज पुत्र जवाहर लाल सरोज बुधवार को कौशाम्बी से बाइक पर सवार होकर देवरिया जाने के लिए निकले। जैसे ही वह मुंगरा बाशाहपुर के बुढ़िया का इनारा के पास पहुंचे ही थे। पीछे से आ रहे डम्फर ने बाइक में जोरदार टक्कर मार दिया जिससे बाइक चालक सतेंद्र की मौत हो गई। वहीं बाइक पर पीछे बैठा शनि गंभीर रूप से घायल हो गया। स्थानीय लोगों की मदद से शनि को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। जहां डाक्टर ने हालत गंभीर देख घायल को जिला अस्पताल रेफर कर दिया। सत्येंद्र यादव कौशाम्बी में कृषि विभाग में कार्यरत थे। सत्येंद्र किसी आवश्यक कार्य से देवरिया अपने घर बाइक से जा रहे थे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने डंफर को कब्जे में ले लिया। डंफर चालक मौके से भाग निकला। सिरकोनी, जौनपुर। क्षेत्र के इजरी गांव में सोमवार को सई नदी में 40 वर्षीय महिला की डूबने से मौत हो गयी। प्राप्त जानकारी के अनुसार उक्त गांव के दलित बस्ती निवासी किरन देवी पत्नी रमेश कुमार घर से कुछ दूर सई नदी के पास गई थी। वह अज्ञात कारण से नदी में गिर गयी। लोगों ने काफी खोजबीन किया, परन्तु वह नही मिली तो इसकी सूचना पुलिस को दिया गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने गोताखोरों की मदद से किरन देवी का शव कुछ देर बाद ढूंढ निकाला। जलालपुर थाना क्षेत्र के पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। घटना से परिवार में कोहराम मच गया। चंदन अग्रहरि शाहगंज, जौनपुर। ताखा पश्चिम गांव निवासी किशोरी व युवती बुधवार की सुबह शिलाई सिखने के लिए पैदल जा रही थी कि गांव के समीप रोड पार करते समय बाइक की चपेट में आने से दोनों गंभीर रूप से घायल हो गयी। मौके पर मौजूद स्वजनों ने उपचार के लिए स्थानीय राजकीय चिकित्सालय में भर्ती कराया। प्राप्त जानकारी के अनुसार बुधवार की सुबह क्षेत्र के ताखा पश्चिम गांव निवासी पूजा (17) पुत्री उदयराज, अमरावती (19) पुत्री कंचन शिलाई के लिए घर से शिलाई सेंटर पर जा रही थी। गांव के समीप रोड पार करते समय बाइक की चपेट में आने से दोनों गंभीर रूप से घायल हो गयी। मौके पर मौजूद स्वजनों ने उपचार के लिए स्थानीय राजकीय चिकित्सा लय में भर्ती कराया गया। खुटहन, जौनपुर। स्थानीय क्षेत्र के इमामपुर बाजार स्थित शांति शिक्षण संस्थान स्कूल के प्रबन्धक ने कक्षा आठ तक के छात्रों के तीन महीने का शिक्षण शुल्क माफ करने का निर्णय लिया है। प्रबंधक सुजीत वर्मा ने बताया कि कोविड-19 को देखते हुए शिक्षण शुल्क माफी का निर्णय लिया गया है। जिसमें अप्रैल से जून माह तक बच्चों के अभिभावकों को अब शुल्क देना नहीं है। यदि किसी भी अभिभावक ने शुल्क जमा किया है तो उसे नवीन सत्र शुल्क में समायोजित करा दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि नवीन सत्र के लिए प्रवेश प्रारंभ हो गया है। पंकज बिंद महराजगंज, जौनपुर। स्थानीय थाना क्षेत्र के लमहन निवासी ग्राहक सेवा केंद्र संचालक जयकिशुन बिन्द से बाइक सवार बदमाशों ने 83 हजार लूटकर फरार हो गये। जानकारी के अनुसार जयकिशुन बिन्द प्रयागराज-शाहगंज मार्ग स्थित सवंसा में बैंक ऑफ बड़ौदा की फ्रेंचाइजी चलाते हैं। वह बदलापुर स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा की शाखा से एक लाख 83 हजार निकालकर अपनी बाइक से महराजगंज की ओर आ रहे थे। जैसे ही कृष्णा डेरी के पास पहुंचे। पीछे से आए दो बाइक सवार बदमाशों ने उन्हें धक्का देकर गिरा दिया। संचालक के साथ उनकी पत्नी भी बाइक सहित नीचे गिर गई। इसके बाद बाइक सवार बदमाशों ने असलहा दिखाते हुए डिग्गी में रखे 83 हजार लेकर महराजगंज की ओर भाग निकले। पीड़ित की सूचना पर पहुंची महराजगंज व बदलापुर पुलिस एवं सीओ बदलापुर जांच में जुट गये। संचालक जयकिशुन बिन्द ने बताया कि एक लाख रूपये जेब में रखे होने के कारण बच गए। जबकि डिग्गी में रखा 83 हजार लेकर बदमाश फरार हो गये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Read More

Recent