आखिर क्यों ड्यूटी पर तैनात कांस्टेबल ने खुद को मारी गोली, ​जानिए वजह

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में एक चौंकाने वाली खबर आई है। दरअसल यहां लॉकडाउन के बीच ड्यूटी पर तैनात एक सिपाही ने खुद को अपने सर्विस रिवॉल्वर से गोली मार ली है। हालांकि उसे बंसल हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है, जहां उसका इलाज चल रहा है। डॉक्टरों की मानें तो उसकी हालत नाजुक बनी हुई है। मिल रही जानकारी के अनुसार जख्मी कॉन्स्टेबल का नाम चेतन सिंह ठाकुर है। यह घटना मंगलवार दोपहर तीन बजे भोपाल शहर के नीलबड़ इलाके में हुई। जहां रातीबड़ थाने में तैनात चेतन ठाकुर नाम के कांस्टेबल ने पहले अपनी सर्विस रिवॉल्वर हवा में लहराई फिर खुद को गोली मार ली। बुलेट सिपाही के कंधे में जा लगी और जवान जमीन पर गिर गया। इलाके में गोली चलने की वजह से सनसनी फैल गई थी। घटना के बाद पुलिस के आला अधिकारियों ने घटना को लेकर रिपोर्ट तलब कर ली है। बताया जा रहा है कि चेतन पिछले चार दिन से ड्यूटी कर रहा था। वह लॉकडाउन के वक्त ड्यूटी के बोझ और शिफ्ट से ज्यादा काम करने के कारण परेशान हो चुका था। इसी के चलते कांस्टेबल ने यह खौफनाक कदम उठा लिया। घटना की जानकारी मिलते ही उसके साथियों ने उसे हॉस्पिटल में एडमिट कराया। मामले की जानकारी लगते ही एसपी हेडक्वार्टर धर्मवीर सिंह यादव और एडिशनल एसपी रजत सकलेचा मौके पर पहुंच गए हैं और कॉन्स्टेबल का हाल जाना हे। हालांकि, इस बारे में कोई आधिकारिक बयान सामने नहीं आया है।

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में एक चौंकाने वाली खबर आई है। दरअसल यहां लॉकडाउन के बीच ड्यूटी पर तैनात एक सिपाही ने खुद को अपने सर्विस रिवॉल्वर से गोली मार ली है। हालांकि उसे बंसल हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है, जहां उसका इलाज चल रहा है। डॉक्टरों की मानें तो उसकी हालत नाजुक बनी हुई है।

मिल रही जानकारी के अनुसार जख्मी कॉन्स्टेबल का नाम चेतन सिंह ठाकुर है। यह घटना मंगलवार दोपहर तीन बजे भोपाल शहर के नीलबड़ इलाके में हुई। जहां रातीबड़ थाने में तैनात चेतन ठाकुर नाम के कांस्टेबल ने पहले अपनी सर्विस रिवॉल्वर हवा में लहराई फिर खुद को गोली मार ली। बुलेट सिपाही के कंधे में जा लगी और जवान जमीन पर गिर गया। इलाके में गोली चलने की वजह से सनसनी फैल गई थी। घटना के बाद पुलिस के आला अधिकारियों ने घटना को लेकर रिपोर्ट तलब कर ली है।

बताया जा रहा है कि चेतन पिछले चार दिन से ड्यूटी कर रहा था। वह लॉकडाउन के वक्त ड्यूटी के बोझ और शिफ्ट से ज्यादा काम करने के कारण परेशान हो चुका था। इसी के चलते कांस्टेबल ने यह खौफनाक कदम उठा लिया। घटना की जानकारी मिलते ही उसके साथियों ने उसे हॉस्पिटल में एडमिट कराया। मामले की जानकारी लगते ही एसपी हेडक्वार्टर धर्मवीर सिंह यादव और एडिशनल एसपी रजत सकलेचा मौके पर पहुंच गए हैं और कॉन्स्टेबल का हाल जाना हे। हालांकि, इस बारे में कोई आधिकारिक बयान सामने नहीं आया है।