Wednesday, August 17, 2022

भारत को आंख दिखाने वालों को मिला करारा जवाब : पीएम मोदी

जौनपुर। भारतीय जनता पार्टी कार्यालय पर यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मन की बात को सुनने के बड़ी से स्क्रीन की व्यवस्था की गई थी मोदी ने आज देशवासियों को अपने "मन की बात" कार्यक्रम के जरिए संबोधित किये। प्रधानमंत्री ने कार्यक्रम के जरिए ही चीन पर निशाना साधते हुए कहा कि अब तक वैश्विक महामारी से मानव जाति पर जो संकट आया, इसी दौरान हमारे कुछ पड़ोसियों द्वारा जो कार्य कर रहा है, देश उन चुनौतियों से भी निपट रहा है। प्रधानमंत्री ने सीमा पर तैनात भारत के जवानों के साहस की तारीफ करते हुए कहा कि लद्दाख में भारत की भूमि पर आंख उठाकर देखने वालों को करारा जवाब मिला है। भारत मित्रता निभाना जानता है, तो आंख में आंख डालकर देखना और उचित जवाब देना भी जानता है। हमारे वीर सैनिकों ने दिखा दिया है कि वो कभी मां भारती के गौरव पर आंच नहीं आने देंगे, प्रधानमंत्री मोदी ने देशवासियों से एकजुट होने की अपील करते हुए कहा कि कोई भी मिशन जनभागीदारी के बिना पूरा या सफल नहीं हो सकता है। आत्मनिर्भर भारत की दिशा में भी आपका संकल्प और समर्पण जरूरी है। आप लोकल खरीदेंगे और लोकल के लिए वोकल होंगे, तो आप देश को मजबूत बना रहे होंगे, ये भी देश की सेवा है। आप, किसी भी प्रोफेशन में हों, हर-एक जगह, देश-सेवा का बहुत स्कोप होता है। देश की आवश्यकता को समझते हुए, जो भी कार्य करते हैं, वो, देश की सेवा ही होती है। उन्होंने कहा कि बाकी सब बातों के बीच हमें ये भी ध्यान रखना है कि मानसून के सीजन में कई बीमारियां आती हैं। कोरोनाकाल में हमें इनसे भी बचकर रहना है। आर्युवेदिक औषधियां, काढ़ा, गर्म पानी, इन सबका इस्तेमाल करते रहिए और स्वस्थ रहिए। प्रधानमंत्री जी ने भूतपूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव जी को श्रद्धांजलि देते हुये कहा कि आज से उनकी जन्मशताब्दी शुरू हो रही है वह एक स्वभाविक राजनेता थे, वह कई भाषाओं के ज्ञाता भी थे वह अपनी आवाज बुलंद करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ते थे। उन्हें लाइसेंस राज के निराकरण का श्रेय दिया जाता है। भारत में आर्थिक सुधार करने के लिए नरसिम्हा राव ने कांग्रेस से ही अपने पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी के कई नीतियों को पलट दिया था उनकी भारतीय आर्थिक सुधार के जनक के रूप में जाना जाता है। कार्यालय पर जिलाध्यक्ष पुष्पराज सिंह, जिला महामंत्री शुशील मिश्रा, जिला मंत्री रविन्द्र सिंह राजू दादा, अभय राय, डीसीएफ चैयरमैन धन्यजय सिंह, मण्ड़ल अध्यक्ष अमित श्रीवास्तव, आमोद सिंह, विनीत शुक्ला, सुधांशु सिंह, विपिन सिंह सभासद, राजेश गुप्ता, हर्ष मोदनवाल, शुभम मौर्य आदि उपस्थित रहे।

जौनपुर। भारतीय जनता पार्टी कार्यालय पर यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मन की बात को सुनने के बड़ी से स्क्रीन की व्यवस्था की गई थी मोदी ने आज देशवासियों को अपने “मन की बात” कार्यक्रम के जरिए संबोधित किये। प्रधानमंत्री ने कार्यक्रम के जरिए ही चीन पर निशाना साधते हुए कहा कि अब तक वैश्विक महामारी से मानव जाति पर जो संकट आया, इसी दौरान हमारे कुछ पड़ोसियों द्वारा जो कार्य कर रहा है, देश उन चुनौतियों से भी निपट रहा है।
प्रधानमंत्री ने सीमा पर तैनात भारत के जवानों के साहस की तारीफ करते हुए कहा कि लद्दाख में भारत की भूमि पर आंख उठाकर देखने वालों को करारा जवाब मिला है। भारत मित्रता निभाना जानता है, तो आंख में आंख डालकर देखना और उचित जवाब देना भी जानता है। हमारे वीर सैनिकों ने दिखा दिया है कि वो कभी मां भारती के गौरव पर आंच नहीं आने देंगे, प्रधानमंत्री मोदी ने देशवासियों से एकजुट होने की अपील करते हुए कहा कि कोई भी मिशन जनभागीदारी के बिना पूरा या सफल नहीं हो सकता है।
आत्मनिर्भर भारत की दिशा में भी आपका संकल्प और समर्पण जरूरी है। आप लोकल खरीदेंगे और लोकल के लिए वोकल होंगे, तो आप देश को मजबूत बना रहे होंगे, ये भी देश की सेवा है। आप, किसी भी प्रोफेशन में हों, हर-एक जगह, देश-सेवा का बहुत स्कोप होता है। देश की आवश्यकता को समझते हुए, जो भी कार्य करते हैं, वो, देश की सेवा ही होती है।
उन्होंने कहा कि बाकी सब बातों के बीच हमें ये भी ध्यान रखना है कि मानसून के सीजन में कई बीमारियां आती हैं। कोरोनाकाल में हमें इनसे भी बचकर रहना है। आर्युवेदिक औषधियां, काढ़ा, गर्म पानी, इन सबका इस्तेमाल करते रहिए और स्वस्थ रहिए। प्रधानमंत्री जी ने भूतपूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव जी को श्रद्धांजलि देते हुये कहा कि आज से उनकी जन्मशताब्दी शुरू हो रही है वह एक स्वभाविक राजनेता थे, वह कई भाषाओं के ज्ञाता भी थे वह अपनी आवाज बुलंद करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ते थे।
उन्हें लाइसेंस राज के निराकरण का श्रेय दिया जाता है। भारत में आर्थिक सुधार करने के लिए नरसिम्हा राव ने कांग्रेस से ही अपने पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी के कई नीतियों को पलट दिया था उनकी भारतीय आर्थिक सुधार के जनक के रूप में जाना जाता है। कार्यालय पर जिलाध्यक्ष पुष्पराज सिंह, जिला महामंत्री शुशील मिश्रा, जिला मंत्री रविन्द्र सिंह राजू दादा, अभय राय, डीसीएफ चैयरमैन धन्यजय सिंह, मण्ड़ल अध्यक्ष अमित श्रीवास्तव, आमोद सिंह, विनीत शुक्ला, सुधांशु सिंह, विपिन सिंह सभासद, राजेश गुप्ता, हर्ष मोदनवाल, शुभम मौर्य आदि उपस्थित रहे।

सिरकोनी, जौनपुर। क्षेत्र के बन्दीपुर स्थित शराब की दुकान को हटाने की माँग को लेकर ग्रामीणों ने जमकर विरोध गया और धरने पर बैठ गए। उक्त गांव पर स्थित शराब की दुकान को ग्रामीण यह कह कर हटाना चाहते है कि इसके चलते आस पास में गन्दगी फैल रही है। साथ ही कुछ अराजक तत्व भी आ कर यहां बवाल करते है। धरने पर विशाल सिंह, कल्लू, मोनू सिंह, बंटी सिंह, विपिन यादव, सनी गुप्ता, संदीप अग्रहरि, चन्दन राजभर, नीरज गुप्ता, विकास शर्मा सहित अन्य रहे। शाहगंज, जौनपुर। नगर के दो चर्चित युवाओं को एक समाज विशेष के प्रतिष्ठित संगठन जायसवाल क्लब की युवा इकाई में जिले की कार्यकारिणी में सम्मिलित किया गया। इस क्रम में रविंद्र जायसवाल को जायसवाल युवा क्लब का जिला महासचिव और पवन जायसवाल को जिला उपाध्यक्ष मनोनीत किया गया। इस पर युवा समाजसेवी ईशान "राम" ने उन लोगों को बधाई और शुभकामनाएं दी तथा उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए उनसे यह अपेक्षा की रखी है की वह अपने समाज को संगठित करें और सर्व समाज के हित की बात करे तथा उसके लिए कार्य भी करें। पूर्व विधायक शचीन्द्र नाथ की मनाई गई पुण्यतिथि जौनपुर (टीटीएन) 26 जून। जफराबाद के पूर्व विधायक शचीन्द्र नाथ त्रिपाठी की द्वितीय पुण्यतिथि गुरुवार को उनके पैतृक गांव हरिद्वारी में मनाई गई। इस मौके पर उनके पुत्र ने असहाय, गरीबों में खाद्य सामग्री व राशन वितरित किया। उपस्थित लोगों ने शचीन्द्र नाथ त्रिपाठी के सरल व्यवहार को याद करके उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। ग्राम प्रधान वंदना त्रिपाठी ने कहा कि पूर्व विधायक श्री त्रिपाठी अपने क्षेत्र की जनता को अपने परिवार की तरह मानते थे। वे हमेशा अपने क्षेत्र में लोगों के बीच उपस्थित रहते थे। उनके पुत्र आलोक त्रिपाठी ने कहा कि वह आज हमारे बीच भले ही न हो लेकिन उनका स्नेह और आशीर्वाद हमेशा हम सबके ऊपर बना रहेगा। इसके पूर्व उपस्थित लोगों ने शचीन्द्र नाथ त्रिपाठी के चित्र पर पुष्प अर्पित कर भावपूर्ण श्रद्धांजलि दिया। इस मौके पर अजय त्रिपाठी, पंकज त्रिपाठी, राहुल त्रिपाठी, राम शिरोमणि त्रिपाठी, अमर बहादुर सिंह, प्रकाश चंद त्रिपाठी, विजय यादव, गिरीश चन्द त्रिपाठी, संजय पटेल, प्रभाकर दूबे, वेदांत त्रिपाठी, वरुण त्रिपाठी, आयुष आदि उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Read More

Recent