Monday, November 28, 2022
Advertisement

थानाध्यक्ष के शाह पर खड़ंजा का कार्य अवरुद्ध | #TEJASTODAY

Abhishek shukla
सिरकोनी, जौनपुर। क्षेत्र के ग्राम सुरहुरपुर ढेलवारी प्रधान के द्वारा खड़ंजा का निर्माण कराया जा रहा था जो कि ग्राम से होकर प्राथमिक जूनियर हाईस्कूल और पोलिंग बूथ तक जाता है। इस कार्य को मुरारी दुबे पुत्र अमर देव दुबे के द्वारा जबरदस्ती रोक दिया गया है, जबकि यह जमीन बंजर ग्राम समाज की है और पिछले 10 वर्ष पूर्व इस जमीन पर पीडब्ल्यूडी द्वारा गिट्टी भी डाला गया था, लेकिन यह उक्त लोगों के द्वारा जबरदस्ती खड़ंजा निर्माण कार्य को रोक रहे हैं।

Abhishek shukla सिरकोनी, जौनपुर। क्षेत्र के ग्राम सुरहुरपुर ढेलवारी प्रधान के द्वारा खड़ंजा का निर्माण कराया जा रहा था जो कि ग्राम से होकर प्राथमिक जूनियर हाईस्कूल और पोलिंग बूथ तक जाता है। इस कार्य को मुरारी दुबे पुत्र अमर देव दुबे के द्वारा जबरदस्ती रोक दिया गया है, जबकि यह जमीन बंजर ग्राम समाज की है और पिछले 10 वर्ष पूर्व इस जमीन पर पीडब्ल्यूडी द्वारा गिट्टी भी डाला गया था, लेकिन यह उक्त लोगों के द्वारा जबरदस्ती खड़ंजा निर्माण कार्य को रोक रहे हैं। इस कार्य में वर्तमान समय के.के. गुप्ता थाना इंचार्ज हैं उनका पूर्ण सहयोग कर रहे हैं। क्षेत्रवासियों को बारिश के समय आने जाने में बहुत दिक्कत हो रही है, यह रास्ता ब्राह्मण बस्ती से होकर मौर्य बस्ती विद्यालय व पोलिंग बूथ तक जाने का एकमात्र रास्ता है, जिसकी शिकायत थानाध्यक्ष को दी गई। इस मामले को संज्ञान में नहीं ले रहे हैं प्रधान ने प्रार्थना पत्र के द्वारा मामले को अवगत भी कराया लेकिन इस मामले पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। यह मामला धीरे-धीरे 3 दिन का हो गया यदि यहां कोई घटना होती है तो इसके पूर्ण जिम्मेदार थानाध्यक्ष के.के. गुप्ता की होगी। जबकि इसके पहले मुरारी दुबे द्वारा 10 फीट रास्ते का समझौता पत्र भी दिया गया था फिर भी अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हो रही है।

इस कार्य में वर्तमान समय के.के. गुप्ता थाना इंचार्ज हैं उनका पूर्ण सहयोग कर रहे हैं। क्षेत्रवासियों को बारिश के समय आने जाने में बहुत दिक्कत हो रही है, यह रास्ता ब्राह्मण बस्ती से होकर मौर्य बस्ती विद्यालय व पोलिंग बूथ तक जाने का एकमात्र रास्ता है, जिसकी शिकायत थानाध्यक्ष को दी गई। इस मामले को संज्ञान में नहीं ले रहे हैं प्रधान ने प्रार्थना पत्र के द्वारा मामले को अवगत भी कराया लेकिन इस मामले पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही है।

यह मामला धीरे-धीरे 3 दिन का हो गया यदि यहां कोई घटना होती है तो इसके पूर्ण जिम्मेदार थानाध्यक्ष के.के. गुप्ता की होगी। जबकि इसके पहले मुरारी दुबे द्वारा 10 फीट रास्ते का समझौता पत्र भी दिया गया था फिर भी अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हो रही है।

सौरभ​ सिंह सिकरारा, जौनपुर। निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. संजय निषाद ने कहा कि आम चुनाव में पार्टी का प्रत्याशी दूसरे नम्बर पर था। निषाद पार्टी अपने सिम्बल से गठबंधन से मल्हनी का उपचुनाव लड़ेगी और विधानसभा में जाएगी। ये हमारा हक है, ये समाज और लोगो का भी हक है। पार्टी का भी हक़ है। हमने सहयोगी दल भाजपा का लगातार सहयोग किया इसलिए उनकी भी जिम्मेदारी है कि इस उपचुनाव में हमारा सहयोग करें। बुधवार को गोसाईगंज बाजार में आयोजित पत्रकार वार्ता में उन्होंने कहा कि जिसका दल होता है उसका बल होता है उसकी समस्याओं का हल होता है। 70 साल से जिन- जिन लोगो ने दल बनाया और अपनी समस्याओं का हल कर लिया। सभी समस्याओं का हल राजीतिक दल से ही सम्भव है। कहा कि जो गरीब, किसान, नौजवान है, मछुवारे है जो नदियों के किनारे बसे हुए है। जिले में कई नदियां बहती है ऐसे में हमारी संख्या बल यहां बहुत अधिक है। हमारी संख्या अधिक होने के बावजूद 70 साल से इनको घुमाया जा रहा है। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि मैं 13 जनवरी 2013 को निषादराज के किले पर संकल्प लिया। मैने 16 अगस्त 2016 में पार्टी का रजिस्टर कराया। 2017 में हमारी पार्टी 60 सीटों पर चुनाव लड़ा, जिसमे मल्हनी में हमारा प्रत्याशी रनर रहा। जबकि भाजपा यहां चौथे स्थान पर थी। 2019 में लोकसभा चुनाव में भी भाजपा का प्रत्याशी चुनाव हार गई। मल्हनी में निषाद पार्टी रनर थी। अगर आज चुनाव नही होता तो जब पहला आदमी नही रहा तो दूसरे का नम्बर वैसे ही है। इसलिए निषाद पार्टी मल्हनी चुनाव लड़ेगी। निषाद पार्टी अपने सिम्बल से चुनाव लड़ेगी और विधानसभा में जाएगी। ये हमारा हक है ये समाज और लोगो का भी हक है। पार्टी का भी हक़ है। इसीलिए सहयोगी दल भाजपा का लगातार सहयोग किया इसलिए उनकी भी जिम्मेदारी है कि इस उपचुनाव में हमारा सहयोग करे। डा. संजय निषाद ने कहा कि वे हमारे बड़े भाई तो अपने छोटे भाई को भी बड़ा करने का धर्म बनता है। अब सहयोग करे। कोरोना के कारण हम भीड़ इकठ्ठा नही कर सकते लेकिन पदाधिकारियो के माध्यम से सन्देश दे रहे है कि मतदाताओं तक आप कैसे पहुंचोगे। अपमान सहकर जो अपमान सहता है राजनीति में वही सम्मान का हकदार होता है। इसलिए मतदाताओं के पास जाओ और सही- सही बात बताओ कि भाजपा ने क्या किया है। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि लोगो को बताओ कि भाजपा ने स्वास्थ्य मंत्रालय दिया है, मत्स्य मंत्रालय दिया है, 20 हजार करोण रुपया दिया है। मछुआरों के लिए स्वास्थ्य बीमा दिया हैं, निषादराज किले को पर्यटन स्थल घोषित किया है जो चमक रहा है। उन्होंने भाजपा को बधाई दिया कि कम से कम श्रृंगेरपुर धाम की मिट्टी व निषादराज किले की मिट्टी है जहां भगवान राम को गले मिलाया, ऐसे जगह जहां भगवान राम को कष्ट में निषादराज ने गंगा पार लगाया था। वहां की मिट्टी और गंगाजल आएगा। राम मंदिर में भी निषादों का सहयोग है, सरकार बनाने में भी निषादों का सहयोग है। कहा कि जनता को जाओ समझाओ और अपने वोट को इकट्ठा करो क्योकि वोट से ही सारा पावर है। जो निष्क्रिय है उन्हें सक्रिय करेगे। और बूथ को मजबूत करेगे। ये तो पूरे प्रदेश की तैयारी चल रही है दुर्भाग्यवश यहां उपचुनाव हो रहा है। निषाद पार्टी रनर थी वही लड़ेगा। कहा कि इस सम्बंध में भाजपा नेताओं के साथ बैठक कर बातचीत में अच्छा परिणाम निकलता है। सुरेरी, जौनपुर। स्थानीय थाना क्षेत्र के पट्टीजियाराय गांव में स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा ग्रामीणों का कोरोना जांच किया गया था, जहां कुल 27 लोगों ने कोरोना जांच हेतु सेम्पल दिया था, जिसमें एक ही परिवार के 34 वर्षीय सरिता, 32 वर्षीय रामपाल, 13 वर्षीय आदर्श, 3 वर्षीय आदिति समेत पॉच लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली। इस संदर्भ में प्रभारी चिकित्साधिकारी रामपुर प्रभात यादव ने बताया की एक ब्यक्ति यूनियन बैंक में कार्य करता था जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने की सूचना पर उसके परिजन समेत पट्टीजियाराय गांव के ग्रामीणों की जांच कराई गई, जिसमें एक ही परिवार के पांच लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। चंदन अग्रहरि शाहगंज, जौनपुर। जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक के शान्ति समिति की बैठक में पहुंचने की सूचना पर पुलिस ने निर्धारित मार्ग से वाहनों का आवागमन रोककर जाम को समाप्त करवा दिया, लेकिन मीटिंग के पश्चात डीएम ने नाटौली गांव के विद्यालय को देखने की बात कहकर काफिला आगे बढ़ा। कोतवाली चौक से मुख्य मार्ग पर साहब का काफिला जाम में फंस गया। कोतवाली चौक से जेसीज चौक तक लगे भीषण जाम में 20 मिनट से ज्यादा तक गाडियां फंसी रहीं। इस दौरान कोतवाली पुलिस ने उप निरीक्षक, जवान से लेकर एसपी और क्षेत्राधिकारी के साथ चलने वाले सुरक्षाकर्मी जाम हटवाने के लिए हांफते नजर आए। सिरकोनी, जौनपुर। जफराबाद थाना क्षेत्र के सुंगुलपुर रसूलपुर गांव में निषाद बस्ती में जमीनी विवाद में दो पक्षों में जमकर मारपीट हो गई। जिसमें 2 महिलाओं सहित तीन लोग घायल हो गए। प्राप्त जानकारी के अनुसार लल्लन तथा राम प्रकाश निषाद के बीच काफी दिनों से जमीनी विवाद चल रहा था। रामप्रकाश ने 1 सप्ताह पहले पक्की नाप करा कर पत्थरगड़ी करवाया था। रामप्रकाश का आरोप है कि विपक्षी गड़े हुए पत्थर को उखाड़ कर फेंक रहे थे। इसी को लेकर विवाद हो गया वहीं विपक्षी लल्लन का कहना है कि रामप्रकाश पक्का निर्माण करने का प्रयास कर रहे थे। इसलिए विवाद हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस घायलों को एंबुलेंस की सहायता से जिला अस्पताल पहुंचाया तथा तहरीर के आधार पर मुकदमा लिख कर कार्रवाई में जुटी। खुटहन, जौनपुर। स्थानीय क्षेत्र के इमामपुर बाजार स्थित शांति शिक्षण संस्थान स्कूल के प्रबन्धक ने कक्षा आठ तक के छात्रों के तीन महीने का शिक्षण शुल्क माफ करने का निर्णय लिया है। प्रबंधक सुजीत वर्मा ने बताया कि कोविड-19 को देखते हुए शिक्षण शुल्क माफी का निर्णय लिया गया है। जिसमें अप्रैल से जून माह तक बच्चों के अभिभावकों को अब शुल्क देना नहीं है। यदि किसी भी अभिभावक ने शुल्क जमा किया है तो उसे नवीन सत्र शुल्क में समायोजित करा दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि नवीन सत्र के लिए प्रवेश प्रारंभ हो गया है। जौनपुर। जिलाधिकारी जौनपुर दिनेश कुमार सिंह ने बताया कि आगामी त्योहारों को देखते हुए 30 जुलाई और 31 जुलाई को दुकानों का समय 5:00 बजे बंद करने का जो ​समय था उसे बढ़ा करके 7:00 बजे किया जाता है। दुकानदार शाम 7:00 बजे तक अपनी दुकान खोल सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Read More

Recent