सरकार की नजर अब 275 एप्‍स पर, लिस्‍ट में PubG हैं शामिल | #TEJASTODAY

न्यूज ​एजेन्सी। भारत ने पिछले महीने 59 चीनी एप्‍स को प्रतिबंधित करने के बाद अब 275 चीनी एप्‍स की एक लिस्‍ट तैयार की है। सरकार अब यह जांच करेगी कि यह चीनी एप्‍स कहीं राष्‍ट्रीय सुरक्षा और यूजर प्राइवेसी के नियमों का उल्‍लंघन तो नहीं कर रही हैं। इस मामले से जुड़े कुछ सूत्रों ने बताया कि सरकार ने चीपी एप्‍स की जांच कड़ी कर दी है और इस बात की संभावना है कि देश में और अधिक चीनी इंटरनेट कंपनियों को प्रतिबंधित किया जा सकता है। इकोनॉमिक्‍स टाइम्‍स की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले महीने शॉर्ट वीडियो एप ट‍िकटॉक सहित 59 चीनी एप को प्रतिबंधित करने के बाद सरकार ने यह कदम उठाया है। सरकार ने 275 एप्‍स की जो लिस्‍ट तैयार की है, उसमें गेमिंग एप पबजी भी शामिल है। चीन की सबसे मूल्‍यवान इंटरनेट कंपनी टेनसेंट इसकी मालिक है। इसके अलावा फोननिर्माता शाओमी की जिली, अलीबाबा की अलीएक्‍सप्रेस के साथ ही ट‍िकटॉक की मालिकाना कंपनी बाइटडांस की रेसो और यूलाइक जैसे एप इस लिस्‍ट में शामिल हैं। एक सूत्र ने बताया कि सरकार इन सभी एप को या कुद को या किसी को भी नहीं प्रतिबंधित कर सकती है। गृह मंत्रालय के प्रव‍क्‍ता ने इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। हालांकि आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि चीनी एप्‍स और उनके वित्‍त पोषण की जांच की जा रही है। इनमें से कुद एप्‍स को सुरक्षा के लिहाज से जोखिम की श्रेणी में रखा गया है, जबकि अन्‍य को डाटा शेयरिंग और प्राइवेसी नियमों के उल्‍लंघन की जांच के लिए लिस्‍ट में रखा गया है। उद्योग अनुमान के मुताबिक चीनी इंटरनेट कंपनियों के भारत में लगभग 30 करोड़ यूनिक यूजर्स हैं, इसका मतलब है कि देश में दो तिहाई स्‍मार्टफोन यूजर्स ने एक चीनी एप को जरूर डाउनलोड किया है। जांच के लिए तैयार की गई 275 चीनी एप्‍स की लिस्‍ट में 14 एप्‍स शाओमी की है। इसके अलावा कैपकट, फेसयू, Meitu, एलबीई टेक, परफेक्‍ट कॉर्प, सीना कॉर्प, नेटीज गेम्‍स, यूजू ग्‍लोबल श‍ामिल हैं।

न्यूज ​एजेन्सी। भारत ने पिछले महीने 59 चीनी एप्‍स को प्रतिबंधित करने के बाद अब 275 चीनी एप्‍स की एक लिस्‍ट तैयार की है। सरकार अब यह जांच करेगी कि यह चीनी एप्‍स कहीं राष्‍ट्रीय सुरक्षा और यूजर प्राइवेसी के नियमों का उल्‍लंघन तो नहीं कर रही हैं। इस मामले से जुड़े कुछ सूत्रों ने बताया कि सरकार ने चीपी एप्‍स की जांच कड़ी कर दी है और इस बात की संभावना है कि देश में और अधिक चीनी इंटरनेट कंपनियों को प्रतिबंधित किया जा सकता है।

https://tejastoday.com/the-death-anniversary-of-phoolan-devi-celebrated-in-the-socialist-hut-tejastoday/

इकोनॉमिक्‍स टाइम्‍स की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले महीने शॉर्ट वीडियो एप ट‍िकटॉक सहित 59
चीनी एप को प्रतिबंधित करने के बाद सरकार ने यह कदम उठाया है। सरकार ने 275 एप्‍स की जो लिस्‍ट तैयार की है, उसमें गेमिंग एप पबजी भी शामिल है। चीन की सबसे मूल्‍यवान इंटरनेट कंपनी टेनसेंट इसकी मालिक है। इसके अलावा फोननिर्माता शाओमी की जिली, अलीबाबा की अलीएक्‍सप्रेस के साथ ही ट‍िकटॉक की मालिकाना कंपनी बाइटडांस की रेसो और यूलाइक जैसे एप इस लिस्‍ट में शामिल हैं।

जफराबाद, जौनपुर। स्थानीय कस्बे के मोहल्ला नासही स्थित श्री शिव मंदिर में शनिवार को नाग पंचमी का पर्व मंदिर जीर्णोधारक अवकाश प्राप्त वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी प्रेमचन्द प्रजापति एवं क्षेत्रवासियों द्वारा सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए जलाभिषेक एवं भजन-कीर्तन के साथ धूमधाम से मनाया गया। शिव मंदिर में शाम को आयोजित सुन्दरकाण्ड पाठ एवं भजन कीर्तन कार्यक्रम में शामिल कीर्तनकारों ने एक से बढ़कर एक भगवान शिव के कीर्ति से जुड़े भजन प्रस्तुत कर श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया। कार्यक्रम का शुभारम्भ हनुमान चालीसा एवं सुन्दरकाण्ड पाठ से हुआ। समापन श्री हनुमान एवं भगवान शंकर के आरती एवं प्रसाद वितरण के साथ हुआ। आभार पत्रकार बृजनन्दन स्वरूप ने व्यक्त किया। इस अवसर पर मास्टर प्रेमचन्द बेनवंशी, राजेन्द्र साहू, डा. राधेश्याम, सुनील प्रजापति, फिरतू राम, फुलारे प्रजापति, अशोक चौरसिया, मनीष साहू, ज्ञान प्रकाश ज्ञानू, राम संजीवन, शिव ज्योति, ट्वींकल आदि उपस्थित रहे।

एक सूत्र ने बताया कि सरकार इन सभी एप को या कुद को या किसी को भी नहीं प्रतिबंधित कर सकती है। गृह मंत्रालय के प्रव‍क्‍ता ने इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। हालांकि आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि चीनी एप्‍स और उनके वित्‍त पोषण की जांच की जा रही है। इनमें से कुद एप्‍स को सुरक्षा के लिहाज से जोखिम की श्रेणी में रखा गया है, जबकि अन्‍य को डाटा शेयरिंग और प्राइवेसी नियमों के उल्‍लंघन की जांच के लिए लिस्‍ट में रखा गया है।

चंदन अग्रहरि शाहगंज, जौनपुर। कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत बीबीगंज चौकी क्षेत्र में जमीनी विवाद को लेकर दो पक्षों में जमकर मारपीट हुए मारपीट में कुल दस लोग गंभीर रूप से घायल हो गये। सभी घायलों को इलाज हेतु राजकीय चिकित्सालय में भर्ती कराया। क्षेत्र के बीबीगंज चौकी अन्तर्गत लतीरपुर गांव में बीती रात जमीनी विवाद को लेकर दो पक्षों में जमकर लाठी-डंडे व ईट पत्थर चले जिसमें 54 वर्षीय सुरेश पुत्र बनवारी 27 वर्षीय जितेन्द्र पुत्र लक्ष्मीशंकर 60 वर्षीय राम सूरत 35 वर्षीय रामचन्दर पुत्रगण परसोतम 17 वर्षीय निलेश पुत्र राम सूरत 45 वर्षीय इन्दू पुत्र वीरेन्द्र 18 वर्षीय सूरज पुत्र सालिक 35 वर्षीय वेचन पुत्र महगू 24 वर्षीय बिन्दु पुत्र मुन्नी लाल व 22 वर्षीय अजय पुत्र ओमकार गंभीर रूप से घायल हो गये। सभी घायलों का इलाज राजकीय चिकित्सालय में कराया गया। भुक्तभोगी ने घटना की सूचना कोतवाली पुलिस को दे दी है।

उद्योग अनुमान के मुताबिक चीनी इंटरनेट कंपनियों के भारत में लगभग 30 करोड़ यूनिक यूजर्स हैं, इसका मतलब है कि देश में दो तिहाई स्‍मार्टफोन यूजर्स ने एक चीनी एप को जरूर डाउनलोड किया है। जांच के लिए तैयार की गई 275 चीनी एप्‍स की लिस्‍ट में 14 एप्‍स शाओमी की है। इसके अलावा कैपकट, फेसयू, Meitu, एलबीई टेक, परफेक्‍ट कॉर्प, सीना कॉर्प, नेटीज गेम्‍स, यूजू ग्‍लोबल श‍ामिल हैं।

केराकत, जौनपुर। क्षेत्र के शिवरामपुर खुर्द ग्राम में बीती रात जमीनी विवाद को लेकर दो पक्षों में जमकर मारपीट हुई। जिसमें महिलाओं समेत कुल 9 लोग घायल हो गये। जिनका उपचार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र केराकत में चल रहा है। पुलिस को दोनों पक्षों ने प्रार्थना पत्र दिए। घायलों में प्रथम पक्ष से संजय यादव 40 पुत्र लालाजी यादव, राजू यादव 15 भैयालाल, बबलू 30 पुत्र लालजी यादव, राजेश 25 पुत्र भैयालाल रहें। वहीं दूसरे पक्ष से घायलों में तारा देवी 45 पत्नी प्रभुनाथ, राजू 22 पुत्र शिवशंकर, शिला 26 पुत्री अशोक, अंजनी 17 पुत्र प्रभुनाथ, किसन 18 पुत्र अरविंद रहें। पंकज बिंद महाराजगंज, जौनपुर। स्थानीय क्षेत्र के ग्रामसभा दिलशादपुर निवासी श्री राजेश विश्वकर्मा को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस कमेटी के विस्तार में के जिला सचिव की कमान सौंपी गई। जिससे उनके चाहने वालों में खुशी की लहर दौड़ की गई श्री विश्वकर्मा ने अपने वक्तव्य में कहा कि प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार सिंह लल्लू मुझ पर भरोसा जताया इसके लिए उन्होंने धन्यवाद ज्ञापित किया साथ ही का कहा कि मुझे जो जिम्मेदारी दी गई है मै अपनी पूरी निष्ठा और तन मन धन के साथ आगे बढ़ाने का कार्य करूंगा। गाजियाबाद। दिल्ली से सटे गाजियाबाद में सोमवार सुबह एक युवती की लाश मिलने से हड़कंप मच गया। साहिबाबाद थाना क्षेत्र के दशमेष वाटिका के पास पुलिस को एक सूटकेस मिला, जिसमें युवती की लाश थी। पुलिस का मानना है कि युवती की हत्या कर शव को सूटकेस में बंद करके यहां फेंका गया है। मौके पर पहुंची पुलिस ने युवती की शिनाख्त की कोशिश शुरू कर दी है, साथ ही लाश को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है। पुलिस का मानना है कि युवती की हत्या कहीं और की गई और उसे सूटकेस में बंद करके कार से यहां फेंक दिया गया है, पुलिस आस-पास के सीसीटीवी फुटेज को खंगाल रही है।