अमेजन अपने Prime Now ऐप को जल्द करने वाली है बंद, जानिए क्यों

Technology। ई-कॉमर्स साइट अमेजन (Amazon) ने भारत में प्राइम नाउ डिलीवरी एप को बंद करने का फैसला लिया है। साथ ही इस एप को अमेजन फ्रेश में शिफ्ट किया जाएगा। हालांकि, कंपनी ने अभी तक अमेजन प्राइम नाउ एप को बंद करने का आधिकारिक एलान नहीं किया है। आपको बता दें कि अमेजन प्राइम नाउ डिलीवरी एप को 2016 में लॉन्च किया गया था, तो दूसरी तरफ अमेजन फ्रेश को पिछले साल अगस्त में उतारा गया था। वहीं, दोनों एप ग्रोसरी प्रोडक्ट डिलीवर करते हैं। मिली जानकारी मुताबिक, कोरोना वायरस के चलते कंपनी अमेजन प्राइम नाउ को अमेजन फ्रेश में शिफ्ट नहीं करेगी। उम्मीद की जा रही है कि लॉकडाउन के खत्म होते ही कंपनी अमेजन प्राइम नाउ को बंद कर देगी। अमेजन प्राइम नाउ 2 घंटे के अंदर करता है डिलीवरी अमेजन प्राइम नाउ ग्रोसरी, घर का सामान और इलेक्ट्रॉनिक प्रोडक्ट सिर्फ 2 घंटे में ग्राहकों तक पहुंचाता है। वहीं, यह एप केवल अमेजन प्राइम मेंबर्स के लिए उपलब्ध है। कोरोना वायरस को ध्यान में रखकर डिलीवरी की थी बंद कोरोना वायरस को ध्यान में रखकर ई-कॉमर्स साइट अमेजन, ग्रोफर्स और बिग बास्केट ने अपनी कुछ सेवाओं को भारत में बंद कर दिया है। अमेजन के मुताबिक, जरूरी उत्पादों को छोड़कर अन्य उत्पादों के लिए ऑर्डर नहीं लिया जाएगा। साथ ही कंपनी ने अपने डिलीवरी सिस्टम को भी बंद किया है। तो दूसरी तरफ बिग बास्केट पर सिर्फ दूध की डिलीवरी सुबह 7 बजे से पहले की जाएगी। हालांकि ऑनलाइन डिलीवरी देने वाली कंपनियों से पुलिस बात भी कर रही है। उम्मीद है कि जल्द ही इनकी सेवाएं बहाल होगी। बता दें कि कल यानी 24 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 21 दिन के लिए देश को लॉकडाउन करने की घोषणा की थी, जिसके बाद कंपनियों की तरफ से यह कदम उठाया था।

Technology। ई-कॉमर्स साइट अमेजन (Amazon) ने भारत में प्राइम नाउ डिलीवरी एप को बंद करने का फैसला लिया है। साथ ही इस एप को अमेजन फ्रेश में शिफ्ट किया जाएगा। हालांकि, कंपनी ने अभी तक अमेजन प्राइम नाउ एप को बंद करने का आधिकारिक एलान नहीं किया है। आपको बता दें कि अमेजन प्राइम नाउ डिलीवरी एप को 2016 में लॉन्च किया गया था, तो दूसरी तरफ अमेजन फ्रेश को पिछले साल अगस्त में उतारा गया था। वहीं, दोनों एप ग्रोसरी प्रोडक्ट डिलीवर करते हैं।

मिली जानकारी मुताबिक, कोरोना वायरस के चलते कंपनी अमेजन प्राइम नाउ को अमेजन फ्रेश में शिफ्ट नहीं करेगी। उम्मीद की जा रही है कि लॉकडाउन के खत्म होते ही कंपनी अमेजन प्राइम नाउ को बंद कर देगी।
अमेजन प्राइम नाउ 2 घंटे के अंदर करता है डिलीवरी अमेजन प्राइम नाउ ग्रोसरी, घर का सामान और इलेक्ट्रॉनिक प्रोडक्ट सिर्फ 2 घंटे में ग्राहकों तक पहुंचाता है। वहीं, यह एप केवल अमेजन प्राइम मेंबर्स के लिए उपलब्ध है।

कोरोना वायरस को ध्यान में रखकर डिलीवरी की थी बंद कोरोना वायरस को ध्यान में रखकर ई-कॉमर्स साइट अमेजन, ग्रोफर्स और बिग बास्केट ने अपनी कुछ सेवाओं को भारत में बंद कर दिया है। अमेजन के मुताबिक, जरूरी उत्पादों को छोड़कर अन्य उत्पादों के लिए ऑर्डर नहीं लिया जाएगा। साथ ही कंपनी ने अपने डिलीवरी सिस्टम को भी बंद किया है। तो दूसरी तरफ बिग बास्केट पर सिर्फ दूध की डिलीवरी सुबह 7 बजे से पहले की जाएगी।

हालांकि ऑनलाइन डिलीवरी देने वाली कंपनियों से पुलिस बात भी कर रही है। उम्मीद है कि जल्द ही इनकी सेवाएं बहाल होगी। बता दें कि कल यानी 24 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 21 दिन के लिए देश को लॉकडाउन करने की घोषणा की थी, जिसके बाद कंपनियों की तरफ से यह कदम उठाया था।