आपका समस्या हुआ आसान, UP से बाहर जाने और आने के लिए करें रजिस्ट्रेशन

जौनपुर। Google News पर चलने वाला जिले का पहला न्यूज पोर्टल TejasToday.com आप सब के प्यार और सम्मान से अपनी एक अलग पहचान बना लिया है। यही वजह है कि जौनपुर के लोगों का भरपूर प्यार इस पोर्टल को मिला है। TejasToday.com को इस मुकाम तक पहुंचाने में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से आप लोगों अहम भूमिका रही है। आज TejasToday.com की विजि​टर संख्या 2 करोड़ हो गया है। इस पोर्टल के संचालन होने के नाते मै Deepak Jaiswal आप सबका तहे दिल से शुक्रिया अदा करता हूं, और साथ ही TejasToday.com को इस मुकाम तक पहुंचाने पर हमारे पूज्यनीय मामा जी तेजस टूडे समाचार पत्र के सम्पादक और समूह सम्पादक रामजी जायसवाल की अहम भूमिका रही है मै उनको भी धन्यवाद देता हूं। जो मुझे और आपके TejasToday.com को बहुत ही सर्पोट करके आप सबके बीच लाकर खड़ा किये है। गौरतलब हो कि इस पोर्टल की शुरूआत वर्ष 2018 में हुई थी और आज आप सबके भरपूर प्यार और सम्मान से TejasToday.com न्यूज पोर्टल के 2 करोड़ विजि​टर हो गये है। आपको बताते चले कि TejasToday.com न्यूज पोर्टल के प्रतिदिन के विजिटर लगभग 1.50 है। ये आपका अपना TejasToday.com न्यूज पोर्टल सिर्फ जौनपुर ही नहीं बल्कि सम्पूर्ण भारत के अलावा विदेशों में भी लोग देखते है। आप सबके प्यार और सम्मान ने मुझे इस मुकाम पर पहुंचाया है और यह न्यूज पोर्टल आपका अपना है आप इस तरह अपना प्यार देते रहिए। आपका छोटा भाई Deepak Jaiswal धन्यवाद

लखनऊ। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में और उत्तर प्रदेश के बाहर लॉकडाउन में फंसे लोगों को उनके घर पहुंचाने की व्यवस्था कर दी है। योगी सरकार ने प्रदेश के बाहर फंसे लोगों और प्रदेश में दूसरे प्रदेशों के फंसे लोगों के लिए वेब पोर्टल जनसुनवाई लॉन्च किया है जिस पर रजिस्ट्रेशन कराकर लोग अपने घर जा सकते हैं।

लखनऊ। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में और उत्तर प्रदेश के बाहर लॉकडाउन में फंसे लोगों को उनके घर पहुंचाने की व्यवस्था कर दी है। योगी सरकार ने प्रदेश के बाहर फंसे लोगों और प्रदेश में दूसरे प्रदेशों के फंसे लोगों के लिए वेब पोर्टल जनसुनवाई लॉन्च किया है जिस पर रजिस्ट्रेशन कराकर लोग अपने घर जा सकते हैं। वेब पोर्टल की जानकारी यूपी ट्रैफिक पुलिस ने ट्वीट करके दी है। रजिस्ट्रेशन के दौरान आपसे मोबाइल नंबर, ओटीपी और ईमेल आईडी की जानकारी मांगी जाएगी। रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पांच मई से शुरू हो गई है। इसके अलावा आपको यह भी बताना होगा कि आप कहीं बीमार तो नहीं हैं या फिर आपको पहले क्वारंटीन तो नहीं किया गया है। बता दें कि केंद्र सरकार के सुझाव के बाद सभी राज्य प्रदेश अपने-अपने कामगारों को वापस बुलाने के लिए इंतजाम कर रहे हैं। लोगों को उनके घर पहुंचाने के लिए रेल मंत्रालय भी राज्य सरकार की मदद कर रहा है। कुछ लोगों को बस के जरिए और कुछ लोगों को रेल के जरिए उनके गृह राज्य पहुंचाया जा रहा है। वहां पहुंचने के बाद सभी लोगों की स्क्रीनिंग हो रही है और फिर उन्हें क्वारंटीन किया जा रहा है। यदि आप उत्तर प्रदेश से बाहर कहीं फंसे हैं अथवा आप अन्य किसी राज्य के निवासी हैं और उत्तर प्रदेश में फंसे हैं,लिंक पर पंजीकरण करे। अन्य राज्य से उत्तर प्रदेश में आने के लिए लिंक https://t.co/dg4sz69xct उत्तर प्रदेश से बाहर अन्य राज्य में जाने के लिए लिंक https://t.co/KYBu2za44D

वेब पोर्टल की जानकारी यूपी ट्रैफिक पुलिस ने ट्वीट करके दी है। रजिस्ट्रेशन के दौरान आपसे मोबाइल नंबर, ओटीपी और ईमेल आईडी की जानकारी मांगी जाएगी। रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पांच मई से शुरू हो गई है। इसके अलावा आपको यह भी बताना होगा कि आप कहीं बीमार तो नहीं हैं या फिर आपको पहले क्वारंटीन तो नहीं किया गया है।

बता दें कि केंद्र सरकार के सुझाव के बाद सभी राज्य प्रदेश अपने-अपने कामगारों को वापस बुलाने के लिए इंतजाम कर रहे हैं। लोगों को उनके घर पहुंचाने के लिए रेल मंत्रालय भी राज्य सरकार की मदद कर रहा है। कुछ लोगों को बस के जरिए और कुछ लोगों को रेल के जरिए उनके गृह राज्य पहुंचाया जा रहा है। वहां पहुंचने के बाद सभी लोगों की स्क्रीनिंग हो रही है और फिर उन्हें क्वारंटीन किया जा रहा है। यदि आप उत्तर प्रदेश से बाहर कहीं फंसे हैं अथवा आप अन्य किसी राज्य के निवासी हैं और उत्तर प्रदेश में फंसे हैं,लिंक पर पंजीकरण करे।

अन्य राज्य से उत्तर प्रदेश में आने के लिए लिंक
https://t.co/dg4sz69xct
उत्तर प्रदेश से बाहर अन्य राज्य में जाने के लिए लिंक
https://t.co/KYBu2za44D