काव्य सृजन की मासिक गोष्ठी में बही काव्य की धारा

मूरता देवी व महावीर प्रसाद को दी गयी श्रद्धांजलि

मुम्बई। साहित्यिक, सामाजिक व सांस्कृतिक संस्था काव्य सृजन की मासिक गोष्ठी साकीनाका में स्थित एक विद्यालय में हुई जहां संस्था के पदाधिकारी महेश गुप्ता की दादी मूरता देवी की दिवंगत आत्मा को श्रद्धांजलि भी अर्पित की गयी।
रामप्यारे सिंह की अध्यक्षता में आयोजित गोष्ठी के मुख्य अतिथि देव नारायण शर्मा एवं विशिष्ट अतिथि लव कुमार प्रणय अनिल गुप्ता थे। इस मौके पर संस्थापक जौनपुरी ने कार्यक्रम अध्यक्ष व मुख्य अतिथि को शाल, श्रीफल व पुष्प गुच्छ देकर सम्मानित किया। साथ ही दिवंगत मूरता देवी व महावीर प्रसाद नेवटिया को श्रद्धांजलि दी गयी। तत्पश्चात् संस्थापक श्री जौनपुरी ने समस्त अतिथियों सहित आगन्तुकों का परिचय दिया।

काव्य सृजन की मासिक गोष्ठी में बही काव्य की धारा

इस दौरान कवि हीरा लाल यादव, अनिल राही, जवाहर लाल निर्झर, विनय शर्मा दीप, निर्मल नदीम, एडवोकेट राजीव मिश्र, आरजे आरती सैया, रीतेश गौड़, सुशील शुक्ला नाचीज, सतीश शुक्ल रकीब, कल्पेश यादव, शुभम तिवारी, आनन्द पाण्डेय केवल, महेश गुप्ता जौनपुरी, अनिल यादव, एडवोकेट अनिल शर्मा, अल्हड़ असरदार, अवधेश यदुवंशी, महासचिव लाल बहादुर यादव कमल, संस्थापक शिव प्रकाश जौनपुरी, सौरभ जयंत, शोभा खण्डेलवाल, हौसिला प्रसाद सिंह अन्वेषी, भास्कर शर्मा, वीरेन्द्र यादव सहित अन्य ने काव्य पाठ किया।

कार्यक्रम का कुशल संचालन कोषाध्यक्ष वीरेन्द्र यादव ने किया। गोष्ठी को मुख्य अतिथि देव नारायण शर्मा, विशिष्ट अतिथि लव कुमार प्रणय, कार्यक्रम अध्यक्ष श्री रघुवंशी सहित तमाम वक्ताओं ने अपना विचार व्यक्त किया। अन्त में संस्था के महासचिव कमल जी ने कार्यक्रम में आये समस्त अतिथियों, कवियों, श्रोताओं व सहयोगियों के प्रति आभार ज्ञापित किया।