Monday, May 16, 2022
Advertisement

Bhaukaal Season 2: गालियों और गोलियों के बीच फंसा आईपीएस, देख सकते है इस एप्लीकेशन पर

Bhaukaal Season 2: गालियों और गोलियों के बीच फंसा आईपीएस, देख सकते है इस एप्लीकेशन पर

उत्तर प्रदेश में साल 2017 से पहले भी गुंडो, बदमाशों और संगठित गिरोह चलाने वाले अपराधियों पर पुलिस कहर बनकर टूट चुकी है। दरअसल हर दौर में कुछ ऐसे पुलिस अफसर होते हैं जिनके लिए किसी अपराधी की कोई एक बात उसके अहं को चोट पहुंचा देती है और वह फिर उसे मारकर एनकाउंटर स्पेशलिस्ट बन जाता है। बताते हैं कि आईपीएस नवनीत सिकेरा अब तक 60 एनकाउंटर कर चुके हैं। सुर्खियों में रहने की उनकी ख्वाहिश पुरानी है। ये कहानी उनके करियर के शुरूआती दिनों की है। मुफ्त में एमएक्स प्लेयर देखने वालों के लिए विज्ञापनों के साथ प्रसारित होने वाली सीरीज ‘भौकाल’ के दूसरे सीजन की कहानी वहां से शुरू होती है जहां एक बदमाश की बीवी अपने पति की मौत का बदला लेने के लिए लाखों बहाने को तैयार है और नए नए उगे बदमाश इलाके में अपना रुआब फैलाने के लिए बेकरार हैं। वेब सीरीज सीरीज ‘भौकाल’ एक टेम्पलेट सीरीज है। टेम्पेलट सीरीज का मतलब वही है जो फॉर्मूला फिल्मों का होता है। इस तरह की सीरीज ढंग से बने तो कमाल होती है और सिर्फ बनाने के बने तो ‘भौकाल’ होती है।

उत्तर प्रदेश की देशज बोलियों की समझ रखने वाले जानते हैं कि ‘भौकाल’ शब्द का अर्थ करीब करीब वही है जो ताश के खेल में ब्लफ का होता है। भौकाल बनाकर रहने वाले बदमाश अधिकतर मामलों में पुलिस के हाथों ढेर होते हैं और भौकाल बनाकर नौकरी करने वाले पुलिस अफसर अपने आका नेताओं की सरकार जाते ही हाशिये पर आ जाते हैं। उत्तर प्रदेश के पुलिस अफसरों की जीवनी पर फिल्म बनाने का सिलसिला ‘सहर’ से शुरू माना जा सकता है। राम गोपाल वर्मा की फिल्म ‘अब तक 56’ के दिनों में नवनीत सिकेरा पर भी खूब टीवी शो बने। सिकेरा ने जो किया उसे मोहित रैना वर्दी पहनकर वेब सीरीज ‘भौकाल’ में जी रहे हैं। इसके पहले सीजन में निशाने पर शौकीन था, इस बार बंदूक डेढ़ा भाइयों की तरफ घूम गई है। पुलिस की छवि बदलने की एक पुलिस अफसर की कोशिश, इलाके के बदमाशों में एक पुलिस अफसर की सक्रियता के खिलाफ गोलबंदी, बदमाशों की मर्दानगी ललकारती उनके बीच की ही औरतें और मुजफ्फरनगर के नक्शे पर बार बार उभरते गांवों में नुक्कड़ नाटकों सरीखी अपराधों की नुमाइश है। बस इतनी सी ही है, वेब सीरीज ‘भौकाल 2’।

वेब सीरीज ‘भौकाल 2’ उन लोगों के लिए बनी है जिन्हें मोबाइल पर मुफ्त में सीरीज देखने में मजा आता है। बैठकी में लगे स्मार्ट टीवी पर इसे गलती से भी चलाने की गलतियां न करें क्योंकि इसके हर सीन में इतनी गालियां हैं कि आपके घर वाले अपने कमरों और किचन से निकलकर बाहर आ सकते हैं। सीरीज अच्छी हो। गालियां दृश्य की जरूरत हो तो समझ आता है। लेकिन, यहा तो किरदार गालियों की तुकांत कविता भी बनाते दिखते हैं और पश्चिमी उत्तर प्रदेश की शायद ही कोई गाली बची हो जो इसके लेखकों ने इस सीरीज में इस्तेमाल न कर डाली हो। और, ये दिक्कत सिर्फ वेब सीरीज ‘भौकाल’ की नहीं है। अपराध पर बनी हर वेब सीरीज का खांचा एक जैसा हो चुका है। यहां मर्दानगी को लानत भेजने का काम जरूरत से ज्यादा मेकअप में दिखने वाली बिदिता बाग को मिला है।

वेब सीरीज ‘भौकाल 2’ में अधिकतर कलाकार ऐसे हैं जो इसके बनने के दिनों में कुछ भी करने को तैयार रहे होंगे। मोहित रैना की ढीली शर्ट और बार बार कैमरे का उनका पेट दिखाने से बचने की कोशिश करना समझाता है कि कभी ‘महादेव’ बन चुके मोहित ने सिकेरा बनने के लिए वैसी मेहनत नहीं की। उनका डील डौल जरूर गठीला है लेकिन एक आईपीएस अफसर की रवानी उनकी चाल ढाल में नहीं दिखती। गर्भवती बीवी को डॉक्टर को दिखाने ले गए आईपीएस का ये कहना कि मुझे तो हर समय इनके साथ रहना जरूरी है, कहानी के साथ साथ उनके किरदार को भी कमजोर करता है। सिद्धांत कपूर ने कोशिश तो की है लेकिन उनका रुआब बनता नहीं दिखता। संवादों की अदायगी उनकी ओढ़ी हुई सी लगती है। प्रदीप नागर ने जरूर बेहतर काम किया है। सीरीज देखकर बिक्रमजीत कंवरपाल की याद दर्शकों को खूब आती है। पहली मई को उन्हें गुजरे साल भर हो जाएगा।

एमएक्स प्लेयर की साल भर पहले तक शूट होती रही सीरीज में पूरा ध्यान इन्हें पटरियों पर बिकने वाली वैसी किताबें बनाने पर रहा, जिन्हें लाखों लोग पढ़ते तो खूब है लेकिन जिन्हें लाकर कोई अपनी बुकशेल्फ में नहीं रखता। ओटीटी वैसे भी देखे जाने का खेल है। सीरीज कैसी निकली, इससे फर्क नहीं पड़ता। दर्शक ने देख ली। ओटीटी के मिनट जमा हो गए, बस। वेब सीरीज ‘भौकाल 2’ की तकनीकी टीम का ब्रीफ भी शायद यही रहा होगा। लातें मारने की आवाज पर चाकू मारने जैसी आवाजें आती हैं और टू इन वन लेकर घूमते बदमाश को संगीत से लगाव है भी कि नहीं समझाने तक में सीरीज चूक जाती है। पूरी सीरीज की पटकथा बहुत ही चलताऊ ढंग से लिखी गई है। लेखन की पूरी क्रिएटिविटी इसकी गालियों में है। कैमरा और पार्श्वसंगीत भी बहुत ज्यादा मदद नहीं करता। गाली गलौज, गोलीबारी और अपनी गमक में रहने वालों की कहानी कहती वेब सीरीज ‘भौकाल 2’ अपने नाम के हिसाब से तंबू तो खूब ऊंचा तानने की कोशिश करती है, लेकिन न इसके बांस इतने ऊंचे निकले और न ही शामियाना।

आधुनिक तकनीक से करायें प्रचार, बिजनेस बढ़ाने पर करें विचार
हमारे न्यूज पोर्टल पर करायें सस्ते दर पर प्रचार प्रसार।

Jaunpur News : 22 जनवरी को होगा विशेष लोक अदालत का आयोजन

Admission Open : M.J. INTERNATIONAL SCHOOL | Village Banideeh, Post Rampur, Mariahu Jaunpur Mo. 7233800900, 7234800900 की तरफ से जन्माष्टमी की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं

पारिवारिक कलह से क्षुब्ध होकर युवक ने ​खाया जहरीला पदार्थ | #TEJASTODAY चंदन अग्रहरि शाहगंज, जौनपुर। क्षेत्र के पारा कमाल गांव में पारिवारिक कलह से क्षुब्ध होकर बुधवार की शाम युवक ने किटनाशक पदार्थ का सेवन कर लिया। आनन फानन में परिजनों ने उपचार के लिए पुरुष चिकित्सालय लाया गया। जहां पर चिकित्सकों ने हालत गंभीर देखते हुए जिला चिकित्सालय रेफर कर दिया। क्षेत्र के पारा कमाल गांव निवासी पिंटू राजभर 22 पुत्र संतलाल बुधवार की शाम पारिवारिक कलह से क्षुब्ध होकर घर में रखा किटनाशक पदार्थ का सेवन कर लिया। हालत गंभीर होने पर परिजन उपचार के लिए पुरुष चिकित्सालय लाया गया। जहां पर हालत गंभीर देखते हुए चिकित्सकों बेहतर इलाज के लिए जिला अस्पताल रेफर कर दिया।

Jaunpur News: Two arrested with banned meat

 renatus nova capsule uses in hindi, renatus nova customer care number, renatus nova capsules price in punjab, renatus nova company wikipedia, renatus nova company profile, renatus nova result, renatus nova distributor id, renatus nova dosage, renatus nova details in hindi, renatus nova dose, renatus nova diabetes, renatus nova dp price, renatus nova disadvantages, renatus nova effects, renatus nova user video experience, renatus nova flipkart, renatus nova for diabetes, is renatus nova good for piles, renatus nova how to use, renatus nova hindi, renatus nova helpline number, renatus nova head office contact number, renatus nova in hindi, renatus nova www.com, renatus nova youtube, renatus nova capsule review, renatus nova 600, renatus nova about, renatus nova on amazon, about renatus nova in hindi, about renatus nova medicine, renatus nova usage, renatus nova effects, renatus nova use, renatus nova capsule review, renatus nova capsule, renatus nova.in, renatus nova on flipkart, renatus nova capsules uses, renatus nova capsules, renatus nova ingredients

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three − 1 =

Read More

Recent