Monday, November 28, 2022
Advertisement

तालाब पर अवैध कब्जे पर तहसलीदार ने कशा शिकंजा | #TEJASTODAY

विपिन मौर्या मछलीशहर, जौनपुर। स्थानीय तहसील क्षेत्र के करौर गाँव में तालाब की जमीन पर कब्जे की शिकायत पर तहसीलदार ने मौके पर जाकर निरीक्षण किया। उन्होंने एक सप्ताह में अवैध कब्जा हटाने का नोटिस दिया है। तहसीलदार अमित त्रिपाठी को करौर गाँव में एक तालाब की जमीन पर गाँव के तीन लोगों द्वारा अवैध कब्जे की शिकायत मिली थी। शिकायत के बाद गुरुवार को उन्होंने गाँव पहुंचकर अपनी टीम के साथ तालाब का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान तालाब पर तीनों द्वारा अवैध कब्जा पाया गया। जिसके बाद उन्होंने तत्काल एक सप्ताह में अवैध कब्जा हटाने की नोटिस दी। उन्होंने अवैध कब्जा नहीं हटाने पर ग्राम प्रधान पर मुकदमा दर्ज करवाने और तहसील प्रशासन द्वारा अवैध कब्जा हटाने की चेतावनी दी।

विपिन मौर्या
मछलीशहर, जौनपुर। स्थानीय तहसील क्षेत्र के करौर गाँव में तालाब की जमीन पर कब्जे की शिकायत पर तहसीलदार ने मौके पर जाकर निरीक्षण किया। उन्होंने एक सप्ताह में अवैध कब्जा हटाने का नोटिस दिया है। तहसीलदार अमित त्रिपाठी को करौर गाँव में एक तालाब की जमीन पर गाँव के तीन लोगों द्वारा अवैध कब्जे की शिकायत मिली थी।

सौरभ​ सिंह सिकरारा, जौनपुर। निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. संजय निषाद ने कहा कि आम चुनाव में पार्टी का प्रत्याशी दूसरे नम्बर पर था। निषाद पार्टी अपने सिम्बल से गठबंधन से मल्हनी का उपचुनाव लड़ेगी और विधानसभा में जाएगी। ये हमारा हक है, ये समाज और लोगो का भी हक है। पार्टी का भी हक़ है। हमने सहयोगी दल भाजपा का लगातार सहयोग किया इसलिए उनकी भी जिम्मेदारी है कि इस उपचुनाव में हमारा सहयोग करें। बुधवार को गोसाईगंज बाजार में आयोजित पत्रकार वार्ता में उन्होंने कहा कि जिसका दल होता है उसका बल होता है उसकी समस्याओं का हल होता है। 70 साल से जिन- जिन लोगो ने दल बनाया और अपनी समस्याओं का हल कर लिया। सभी समस्याओं का हल राजीतिक दल से ही सम्भव है। कहा कि जो गरीब, किसान, नौजवान है, मछुवारे है जो नदियों के किनारे बसे हुए है। जिले में कई नदियां बहती है ऐसे में हमारी संख्या बल यहां बहुत अधिक है। हमारी संख्या अधिक होने के बावजूद 70 साल से इनको घुमाया जा रहा है। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि मैं 13 जनवरी 2013 को निषादराज के किले पर संकल्प लिया। मैने 16 अगस्त 2016 में पार्टी का रजिस्टर कराया। 2017 में हमारी पार्टी 60 सीटों पर चुनाव लड़ा, जिसमे मल्हनी में हमारा प्रत्याशी रनर रहा। जबकि भाजपा यहां चौथे स्थान पर थी। 2019 में लोकसभा चुनाव में भी भाजपा का प्रत्याशी चुनाव हार गई। मल्हनी में निषाद पार्टी रनर थी। अगर आज चुनाव नही होता तो जब पहला आदमी नही रहा तो दूसरे का नम्बर वैसे ही है। इसलिए निषाद पार्टी मल्हनी चुनाव लड़ेगी। निषाद पार्टी अपने सिम्बल से चुनाव लड़ेगी और विधानसभा में जाएगी। ये हमारा हक है ये समाज और लोगो का भी हक है। पार्टी का भी हक़ है। इसीलिए सहयोगी दल भाजपा का लगातार सहयोग किया इसलिए उनकी भी जिम्मेदारी है कि इस उपचुनाव में हमारा सहयोग करे। डा. संजय निषाद ने कहा कि वे हमारे बड़े भाई तो अपने छोटे भाई को भी बड़ा करने का धर्म बनता है। अब सहयोग करे। कोरोना के कारण हम भीड़ इकठ्ठा नही कर सकते लेकिन पदाधिकारियो के माध्यम से सन्देश दे रहे है कि मतदाताओं तक आप कैसे पहुंचोगे। अपमान सहकर जो अपमान सहता है राजनीति में वही सम्मान का हकदार होता है। इसलिए मतदाताओं के पास जाओ और सही- सही बात बताओ कि भाजपा ने क्या किया है। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि लोगो को बताओ कि भाजपा ने स्वास्थ्य मंत्रालय दिया है, मत्स्य मंत्रालय दिया है, 20 हजार करोण रुपया दिया है। मछुआरों के लिए स्वास्थ्य बीमा दिया हैं, निषादराज किले को पर्यटन स्थल घोषित किया है जो चमक रहा है। उन्होंने भाजपा को बधाई दिया कि कम से कम श्रृंगेरपुर धाम की मिट्टी व निषादराज किले की मिट्टी है जहां भगवान राम को गले मिलाया, ऐसे जगह जहां भगवान राम को कष्ट में निषादराज ने गंगा पार लगाया था। वहां की मिट्टी और गंगाजल आएगा। राम मंदिर में भी निषादों का सहयोग है, सरकार बनाने में भी निषादों का सहयोग है। कहा कि जनता को जाओ समझाओ और अपने वोट को इकट्ठा करो क्योकि वोट से ही सारा पावर है। जो निष्क्रिय है उन्हें सक्रिय करेगे। और बूथ को मजबूत करेगे। ये तो पूरे प्रदेश की तैयारी चल रही है दुर्भाग्यवश यहां उपचुनाव हो रहा है। निषाद पार्टी रनर थी वही लड़ेगा। कहा कि इस सम्बंध में भाजपा नेताओं के साथ बैठक कर बातचीत में अच्छा परिणाम निकलता है।

शिकायत के बाद गुरुवार को उन्होंने गाँव पहुंचकर अपनी टीम के साथ तालाब का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान तालाब पर तीनों द्वारा अवैध कब्जा पाया गया। जिसके बाद उन्होंने तत्काल एक सप्ताह में अवैध कब्जा हटाने की नोटिस दी। उन्होंने अवैध कब्जा नहीं हटाने पर ग्राम प्रधान पर मुकदमा दर्ज करवाने और तहसील प्रशासन द्वारा अवैध कब्जा हटाने की चेतावनी दी।

ADD Shubham Offset सिरकोनी, जौनपुर। जफराबाद थाना क्षेत्र के सुंगुलपुर रसूलपुर गांव में निषाद बस्ती में जमीनी विवाद में दो पक्षों में जमकर मारपीट हो गई। जिसमें 2 महिलाओं सहित तीन लोग घायल हो गए। प्राप्त जानकारी के अनुसार लल्लन तथा राम प्रकाश निषाद के बीच काफी दिनों से जमीनी विवाद चल रहा था। रामप्रकाश ने 1 सप्ताह पहले पक्की नाप करा कर पत्थरगड़ी करवाया था। रामप्रकाश का आरोप है कि विपक्षी गड़े हुए पत्थर को उखाड़ कर फेंक रहे थे। इसी को लेकर विवाद हो गया वहीं विपक्षी लल्लन का कहना है कि रामप्रकाश पक्का निर्माण करने का प्रयास कर रहे थे। इसलिए विवाद हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस घायलों को एंबुलेंस की सहायता से जिला अस्पताल पहुंचाया तथा तहरीर के आधार पर मुकदमा लिख कर कार्रवाई में जुटी। चंदन अग्रहरि शाहगंज, जौनपुर। जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक के शान्ति समिति की बैठक में पहुंचने की सूचना पर पुलिस ने निर्धारित मार्ग से वाहनों का आवागमन रोककर जाम को समाप्त करवा दिया, लेकिन मीटिंग के पश्चात डीएम ने नाटौली गांव के विद्यालय को देखने की बात कहकर काफिला आगे बढ़ा। कोतवाली चौक से मुख्य मार्ग पर साहब का काफिला जाम में फंस गया। कोतवाली चौक से जेसीज चौक तक लगे भीषण जाम में 20 मिनट से ज्यादा तक गाडियां फंसी रहीं। इस दौरान कोतवाली पुलिस ने उप निरीक्षक, जवान से लेकर एसपी और क्षेत्राधिकारी के साथ चलने वाले सुरक्षाकर्मी जाम हटवाने के लिए हांफते नजर आए। विपिन मौर्या मछलीशहर, जौनपुर। स्थानीय कोतवाली क्षेत्र के खाखोपुर बाजार के पास दो बाइकों की आमने सामने टक्कर में एक युवक घायल हो गया। बक्शा थाना क्षेत्र के बधूना गाँव निवासी रामकिशोर मौर्य 26 वर्ष पुत्र लालमणि निजी कार्य से कही गये थे। वह बुधवार की देर शाम अपनी बाइक से मुंगराबादशाहपुर से अपने घर की तरफ जा रहे थे। अभी उक्त बाजार से आगे बढ़े थे कि सामने से आ रही बाइक ने टक्कर मारकर फरार हो गया। वह असंतुलित होकर सड़क के बगल गड्ढे में गिर पड़े जिससे गंभीर रूप से घायल हो गए। स्थानीय लोगों की मदद से घायल को सीएचसी लाया गया जहां डाक्टर ने जिला अस्पताल रेफर दिया। जौनपुर। जिलाधिकारी जौनपुर दिनेश कुमार सिंह ने बताया कि आगामी त्योहारों को देखते हुए 30 जुलाई और 31 जुलाई को दुकानों का समय 5:00 बजे बंद करने का जो ​समय था उसे बढ़ा करके 7:00 बजे किया जाता है। दुकानदार शाम 7:00 बजे तक अपनी दुकान खोल सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Read More

Recent