‘कोई भूखा न रहे’ संकल्प के साथ स्वयंसेवी संगठनों का सेवा कार्य जारी

कैंसर के लिये काम करने वाली संस्था भूखों को करा रही भोजन जौनपुर। महामारी के चलते आर्थिक संकट से जूझ रहे लोगों के लिये शासन-प्रशासन के अलावा तमाम स्वयंसेवी संगठनों द्वारा सेवा कार्य निरन्तर किया जा रहा है। इमाम-ए-अस्र कैंसर रिसर्च एण्ड एनसीडी कण्ट्रोल सोसाइटी उत्तर प्रदेश इस समय कैंसर सहित अन्य गैरसंचारी रोगों से लड़ने के लिये जागरूकता, परामर्श और उपचार कार्य कर रही है। यह हजारों वंचित कैंसर सहित गैरसंचारी रोग के रोगियों के लिये आशा की किरण है। अधिकांश मरीज ऐसे हैं जो जीवन यापन करने में असमर्थ हैं। ऐसे मामलों में उपचार कराना उनकी क्षमता से परे है। समाज पूरी तरह से कैंसर सहित गैरसंचारी रोग के रोगियों के उपचार और पुनर्वास के वित्त पोषण, जागरूकता फैलाने, इसकी प्रारम्भिक पहचान सहित अपनी विभिन्न गतिविधियों के लिये सार्वजनिक समर्थन पर निर्भर है। वर्तमान में कोरोना वायरस के इस दौर में जौनपुर में गंगा-जमुना तहजीब देखने को मिल रही है। जहां पूरा देश महामारी से लड़ रहा है, वहीं इमाम-ए-अस्र कैंसर रिसर्च सोसाइटी के कुछ युवा और छात्र लॉक डाउन की वजह से भूखे सो रहे सैकड़ों व असहायों का पेट भर रहे हैं। लॉक डाउन की वजह से गरीब, असहाय, दिव्यांग, भिक्षाटन करने वालों के समक्ष जीवन यापन करने में बहुत बड़ी समस्या खड़ी हो गयी है। ऐसे में यह संस्था आगे बढ़कर गरीबों को भोजन उपलब्ध करवा रही है। संस्थापक असगर अब्बास स्वयं सारे खर्च उठा रहे हैं जिनकी मदद करने के लिये संस्था से जुड़े लोग कर रहे हैं। संस्था के पदाधिकारियों में साबिर हुसैन, सूरज, अमित कुमार, सैय्यद वली हसन, नौशाद, अरबाज, राधाकृष्ण रेड्डी हैं। विश्व हिन्दू परिषद के जिलाध्यक्ष डा. राकेश चन्द्र दुबे के नेतृत्व में परिषद लगातार जरूरतमन्दों की सेवा में कार्यरत है। सोमवार को विहिप कार्यकर्ताओं ने 151 पैकेट सूखा और सौ पैकेट पका हुआ भोजन विभाग प्रचारक संतोष एवं संघ के वरिष्ठ कार्यकर्ता सुरेश की उपस्थिति में प्रशासन के माध्यम से जरूरतमन्दों में वितरित किया। इस आशय की जानकारी देते हुये जिला मीडिया प्रभारी डा. आशीष मिश्र ने बताया कि वितरण का यह कार्यक्रम जब तक स्थिति सामान्य नहीं होती, तब तक लगातार जारी रहेगा। उक्त अवसर पर जन्मेजय तिवारी, शम्भू शर्मा, सुक्खू सिंह, उमेश शर्मा, अजय चौबे, सुनील शर्मा, अरूण कुमार, सतीश निषाद सहित तमाम लोग सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुये मौजूद रहे। मुफ्तीगंज संवाददाता के अनुसार वर्तमान की महामारी से लोगों के समक्ष उत्पन्न हुई आर्थिक संकट देखते हुये समाजसेवी मनीष राय, रमेश तिवारी एवं अमर सिंह यादव ने स्थानीय ब्लाक के मुर्तजाबाद में उपजिलाधिकारी केराकत चन्द्रेश पाठक और चौकी प्रभारी मुफ्तीगंज कमलेश कन्नौजिया के हाथों तमाम जरूरतमन्दों को दैनिक प्रयोग की वस्तुएं जैसे आटा, चावल, अरहर की दाल, नमक, मसाला, सरसो का तेल, साबुन, बिस्किट आदि दिया। वहीं धर्मापुर ब्लाक में यूनियन बैंक गजना के ब्रांच मैनेजर कुशल त्रिपाठी सहित बैंकमित्र जगन्नाथ राय के हाथों तमाम जरूरतमन्दों को दैनिक उपयोगी सामान दिया गया। इस मौके पर शशि राय ने कहा कि भूखे को भोजन कराना और प्यासे को पानी पिलाना भारत की संस्कृति रही है। इस अवसर पर रघुराज यादव, विवेक राय, संदीप राय, झगड़ू दादा सहित तमाम लोग उपस्थित रहे। महराजगंज संवाददाता के अनुसार स्थानीय क्षेत्र के उमरी कला के प्रधानपति करूणेश शर्मा ने इस समय की महामारी में ग्रामवासियों को भूखा न सुलाने देने का वादा किया। इसकी शुरूआत उन्होंने सोमवार को सब्जी व राशन बांट करके कर भी दिया। साथ ही लोगों से अपील किया कि अपने घरों में रहे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। अनावश्यक रूप से घर से बाहर न निकलें। इस अवसर पर प्रधान आशा देवी सहित तमाम उनके सहयोगी मौजूद रहे।

कैंसर के लिये काम करने वाली संस्था भूखों को करा रही भोजन

जौनपुर। महामारी के चलते आर्थिक संकट से जूझ रहे लोगों के लिये शासन-प्रशासन के अलावा तमाम स्वयंसेवी संगठनों द्वारा सेवा कार्य निरन्तर किया जा रहा है।
इमाम-ए-अस्र कैंसर रिसर्च एण्ड एनसीडी कण्ट्रोल सोसाइटी उत्तर प्रदेश इस समय कैंसर सहित अन्य गैरसंचारी रोगों से लड़ने के लिये जागरूकता, परामर्श और उपचार कार्य कर रही है। यह हजारों वंचित कैंसर सहित गैरसंचारी रोग के रोगियों के लिये आशा की किरण है। अधिकांश मरीज ऐसे हैं जो जीवन यापन करने में असमर्थ हैं। ऐसे मामलों में उपचार कराना उनकी क्षमता से परे है। समाज पूरी तरह से कैंसर सहित गैरसंचारी रोग के रोगियों के उपचार और पुनर्वास के वित्त पोषण, जागरूकता फैलाने, इसकी प्रारम्भिक पहचान सहित अपनी विभिन्न गतिविधियों के लिये सार्वजनिक समर्थन पर निर्भर है। वर्तमान में कोरोना वायरस के इस दौर में जौनपुर में गंगा-जमुना तहजीब देखने को मिल रही है। जहां पूरा देश महामारी से लड़ रहा है, वहीं इमाम-ए-अस्र कैंसर रिसर्च सोसाइटी के कुछ युवा और छात्र लॉक डाउन की वजह से भूखे सो रहे सैकड़ों व असहायों का पेट भर रहे हैं। लॉक डाउन की वजह से गरीब, असहाय, दिव्यांग, भिक्षाटन करने वालों के समक्ष जीवन यापन करने में बहुत बड़ी समस्या खड़ी हो गयी है। ऐसे में यह संस्था आगे बढ़कर गरीबों को भोजन उपलब्ध करवा रही है। संस्थापक असगर अब्बास स्वयं सारे खर्च उठा रहे हैं जिनकी मदद करने के लिये संस्था से जुड़े लोग कर रहे हैं। संस्था के पदाधिकारियों में साबिर हुसैन, सूरज, अमित कुमार, सैय्यद वली हसन, नौशाद, अरबाज, राधाकृष्ण रेड्डी हैं।

  कैंसर के लिये काम करने वाली संस्था भूखों को करा रही भोजन  जौनपुर। महामारी के चलते आर्थिक संकट से जूझ रहे लोगों के लिये शासन-प्रशासन के अलावा तमाम स्वयंसेवी संगठनों द्वारा सेवा कार्य निरन्तर किया जा रहा है। इमाम-ए-अस्र कैंसर रिसर्च एण्ड एनसीडी कण्ट्रोल सोसाइटी उत्तर प्रदेश इस समय कैंसर सहित अन्य गैरसंचारी रोगों से लड़ने के लिये जागरूकता, परामर्श और उपचार कार्य कर रही है। यह हजारों वंचित कैंसर सहित गैरसंचारी रोग के रोगियों के लिये आशा की किरण है। अधिकांश मरीज ऐसे हैं जो जीवन यापन करने में असमर्थ हैं। ऐसे मामलों में उपचार कराना उनकी क्षमता से परे है। समाज पूरी तरह से कैंसर सहित गैरसंचारी रोग के रोगियों के उपचार और पुनर्वास के वित्त पोषण, जागरूकता फैलाने, इसकी प्रारम्भिक पहचान सहित अपनी विभिन्न गतिविधियों के लिये सार्वजनिक समर्थन पर निर्भर है। वर्तमान में कोरोना वायरस के इस दौर में जौनपुर में गंगा-जमुना तहजीब देखने को मिल रही है। जहां पूरा देश महामारी से लड़ रहा है, वहीं इमाम-ए-अस्र कैंसर रिसर्च सोसाइटी के कुछ युवा और छात्र लॉक डाउन की वजह से भूखे सो रहे सैकड़ों व असहायों का पेट भर रहे हैं। लॉक डाउन की वजह से गरीब, असहाय, दिव्यांग, भिक्षाटन करने वालों के समक्ष जीवन यापन करने में बहुत बड़ी समस्या खड़ी हो गयी है। ऐसे में यह संस्था आगे बढ़कर गरीबों को भोजन उपलब्ध करवा रही है। संस्थापक असगर अब्बास स्वयं सारे खर्च उठा रहे हैं जिनकी मदद करने के लिये संस्था से जुड़े लोग कर रहे हैं। संस्था के पदाधिकारियों में साबिर हुसैन, सूरज, अमित कुमार, सैय्यद वली हसन, नौशाद, अरबाज, राधाकृष्ण रेड्डी हैं। विश्व हिन्दू परिषद के जिलाध्यक्ष डा. राकेश चन्द्र दुबे के नेतृत्व में परिषद लगातार जरूरतमन्दों की सेवा में कार्यरत है। सोमवार को विहिप कार्यकर्ताओं ने 151 पैकेट सूखा और सौ पैकेट पका हुआ भोजन विभाग प्रचारक संतोष एवं संघ के वरिष्ठ कार्यकर्ता सुरेश की उपस्थिति में प्रशासन के माध्यम से जरूरतमन्दों में वितरित किया। इस आशय की जानकारी देते हुये जिला मीडिया प्रभारी डा. आशीष मिश्र ने बताया कि वितरण का यह कार्यक्रम जब तक स्थिति सामान्य नहीं होती, तब तक लगातार जारी रहेगा। उक्त अवसर पर जन्मेजय तिवारी, शम्भू शर्मा, सुक्खू सिंह, उमेश शर्मा, अजय चौबे, सुनील शर्मा, अरूण कुमार, सतीश निषाद सहित तमाम लोग सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुये मौजूद रहे। मुफ्तीगंज संवाददाता के अनुसार वर्तमान की महामारी से लोगों के समक्ष उत्पन्न हुई आर्थिक संकट देखते हुये समाजसेवी मनीष राय, रमेश तिवारी एवं अमर सिंह यादव ने स्थानीय ब्लाक के मुर्तजाबाद में उपजिलाधिकारी केराकत चन्द्रेश पाठक और चौकी प्रभारी मुफ्तीगंज कमलेश कन्नौजिया के हाथों तमाम जरूरतमन्दों को दैनिक प्रयोग की वस्तुएं जैसे आटा, चावल, अरहर की दाल, नमक, मसाला, सरसो का तेल, साबुन, बिस्किट आदि दिया। वहीं धर्मापुर ब्लाक में यूनियन बैंक गजना के ब्रांच मैनेजर कुशल त्रिपाठी सहित बैंकमित्र जगन्नाथ राय के हाथों तमाम जरूरतमन्दों को दैनिक उपयोगी सामान दिया गया। इस मौके पर शशि राय ने कहा कि भूखे को भोजन कराना और प्यासे को पानी पिलाना भारत की संस्कृति रही है। इस अवसर पर रघुराज यादव, विवेक राय, संदीप राय, झगड़ू दादा सहित तमाम लोग उपस्थित रहे। महराजगंज संवाददाता के अनुसार स्थानीय क्षेत्र के उमरी कला के प्रधानपति करूणेश शर्मा ने इस समय की महामारी में ग्रामवासियों को भूखा न सुलाने देने का वादा किया। इसकी शुरूआत उन्होंने सोमवार को सब्जी व राशन बांट करके कर भी दिया। साथ ही लोगों से अपील किया कि अपने घरों में रहे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। अनावश्यक रूप से घर से बाहर न निकलें। इस अवसर पर प्रधान आशा देवी सहित तमाम उनके सहयोगी मौजूद रहे।

विश्व हिन्दू परिषद के जिलाध्यक्ष डा. राकेश चन्द्र दुबे के नेतृत्व में परिषद लगातार जरूरतमन्दों की सेवा में कार्यरत है। सोमवार को विहिप कार्यकर्ताओं ने 151 पैकेट सूखा और सौ पैकेट पका हुआ भोजन विभाग प्रचारक संतोष एवं संघ के वरिष्ठ कार्यकर्ता सुरेश की उपस्थिति में प्रशासन के माध्यम से जरूरतमन्दों में वितरित किया। इस आशय की जानकारी देते हुये जिला मीडिया प्रभारी डा. आशीष मिश्र ने बताया कि वितरण का यह कार्यक्रम जब तक स्थिति सामान्य नहीं होती, तब तक लगातार जारी रहेगा। उक्त अवसर पर जन्मेजय तिवारी, शम्भू शर्मा, सुक्खू सिंह, उमेश शर्मा, अजय चौबे, सुनील शर्मा, अरूण कुमार, सतीश निषाद सहित तमाम लोग सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुये मौजूद रहे।

  कैंसर के लिये काम करने वाली संस्था भूखों को करा रही भोजन  जौनपुर। महामारी के चलते आर्थिक संकट से जूझ रहे लोगों के लिये शासन-प्रशासन के अलावा तमाम स्वयंसेवी संगठनों द्वारा सेवा कार्य निरन्तर किया जा रहा है। इमाम-ए-अस्र कैंसर रिसर्च एण्ड एनसीडी कण्ट्रोल सोसाइटी उत्तर प्रदेश इस समय कैंसर सहित अन्य गैरसंचारी रोगों से लड़ने के लिये जागरूकता, परामर्श और उपचार कार्य कर रही है। यह हजारों वंचित कैंसर सहित गैरसंचारी रोग के रोगियों के लिये आशा की किरण है। अधिकांश मरीज ऐसे हैं जो जीवन यापन करने में असमर्थ हैं। ऐसे मामलों में उपचार कराना उनकी क्षमता से परे है। समाज पूरी तरह से कैंसर सहित गैरसंचारी रोग के रोगियों के उपचार और पुनर्वास के वित्त पोषण, जागरूकता फैलाने, इसकी प्रारम्भिक पहचान सहित अपनी विभिन्न गतिविधियों के लिये सार्वजनिक समर्थन पर निर्भर है। वर्तमान में कोरोना वायरस के इस दौर में जौनपुर में गंगा-जमुना तहजीब देखने को मिल रही है। जहां पूरा देश महामारी से लड़ रहा है, वहीं इमाम-ए-अस्र कैंसर रिसर्च सोसाइटी के कुछ युवा और छात्र लॉक डाउन की वजह से भूखे सो रहे सैकड़ों व असहायों का पेट भर रहे हैं। लॉक डाउन की वजह से गरीब, असहाय, दिव्यांग, भिक्षाटन करने वालों के समक्ष जीवन यापन करने में बहुत बड़ी समस्या खड़ी हो गयी है। ऐसे में यह संस्था आगे बढ़कर गरीबों को भोजन उपलब्ध करवा रही है। संस्थापक असगर अब्बास स्वयं सारे खर्च उठा रहे हैं जिनकी मदद करने के लिये संस्था से जुड़े लोग कर रहे हैं। संस्था के पदाधिकारियों में साबिर हुसैन, सूरज, अमित कुमार, सैय्यद वली हसन, नौशाद, अरबाज, राधाकृष्ण रेड्डी हैं। विश्व हिन्दू परिषद के जिलाध्यक्ष डा. राकेश चन्द्र दुबे के नेतृत्व में परिषद लगातार जरूरतमन्दों की सेवा में कार्यरत है। सोमवार को विहिप कार्यकर्ताओं ने 151 पैकेट सूखा और सौ पैकेट पका हुआ भोजन विभाग प्रचारक संतोष एवं संघ के वरिष्ठ कार्यकर्ता सुरेश की उपस्थिति में प्रशासन के माध्यम से जरूरतमन्दों में वितरित किया। इस आशय की जानकारी देते हुये जिला मीडिया प्रभारी डा. आशीष मिश्र ने बताया कि वितरण का यह कार्यक्रम जब तक स्थिति सामान्य नहीं होती, तब तक लगातार जारी रहेगा। उक्त अवसर पर जन्मेजय तिवारी, शम्भू शर्मा, सुक्खू सिंह, उमेश शर्मा, अजय चौबे, सुनील शर्मा, अरूण कुमार, सतीश निषाद सहित तमाम लोग सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुये मौजूद रहे। मुफ्तीगंज संवाददाता के अनुसार वर्तमान की महामारी से लोगों के समक्ष उत्पन्न हुई आर्थिक संकट देखते हुये समाजसेवी मनीष राय, रमेश तिवारी एवं अमर सिंह यादव ने स्थानीय ब्लाक के मुर्तजाबाद में उपजिलाधिकारी केराकत चन्द्रेश पाठक और चौकी प्रभारी मुफ्तीगंज कमलेश कन्नौजिया के हाथों तमाम जरूरतमन्दों को दैनिक प्रयोग की वस्तुएं जैसे आटा, चावल, अरहर की दाल, नमक, मसाला, सरसो का तेल, साबुन, बिस्किट आदि दिया। वहीं धर्मापुर ब्लाक में यूनियन बैंक गजना के ब्रांच मैनेजर कुशल त्रिपाठी सहित बैंकमित्र जगन्नाथ राय के हाथों तमाम जरूरतमन्दों को दैनिक उपयोगी सामान दिया गया। इस मौके पर शशि राय ने कहा कि भूखे को भोजन कराना और प्यासे को पानी पिलाना भारत की संस्कृति रही है। इस अवसर पर रघुराज यादव, विवेक राय, संदीप राय, झगड़ू दादा सहित तमाम लोग उपस्थित रहे। महराजगंज संवाददाता के अनुसार स्थानीय क्षेत्र के उमरी कला के प्रधानपति करूणेश शर्मा ने इस समय की महामारी में ग्रामवासियों को भूखा न सुलाने देने का वादा किया। इसकी शुरूआत उन्होंने सोमवार को सब्जी व राशन बांट करके कर भी दिया। साथ ही लोगों से अपील किया कि अपने घरों में रहे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। अनावश्यक रूप से घर से बाहर न निकलें। इस अवसर पर प्रधान आशा देवी सहित तमाम उनके सहयोगी मौजूद रहे।

मुफ्तीगंज संवाददाता के अनुसार वर्तमान की महामारी से लोगों के समक्ष उत्पन्न हुई आर्थिक संकट देखते हुये समाजसेवी मनीष राय, रमेश तिवारी एवं अमर सिंह यादव ने स्थानीय ब्लाक के मुर्तजाबाद में उपजिलाधिकारी केराकत चन्द्रेश पाठक और चौकी प्रभारी मुफ्तीगंज कमलेश कन्नौजिया के हाथों तमाम जरूरतमन्दों को दैनिक प्रयोग की वस्तुएं जैसे आटा, चावल, अरहर की दाल, नमक, मसाला, सरसो का तेल, साबुन, बिस्किट आदि दिया।

वहीं धर्मापुर ब्लाक में यूनियन बैंक गजना के ब्रांच मैनेजर कुशल त्रिपाठी सहित बैंकमित्र जगन्नाथ राय के हाथों तमाम जरूरतमन्दों को दैनिक उपयोगी सामान दिया गया। इस मौके पर शशि राय ने कहा कि भूखे को भोजन कराना और प्यासे को पानी पिलाना भारत की संस्कृति रही है। इस अवसर पर रघुराज यादव, विवेक राय, संदीप राय, झगड़ू दादा सहित तमाम लोग उपस्थित रहे।

  कैंसर के लिये काम करने वाली संस्था भूखों को करा रही भोजन  जौनपुर। महामारी के चलते आर्थिक संकट से जूझ रहे लोगों के लिये शासन-प्रशासन के अलावा तमाम स्वयंसेवी संगठनों द्वारा सेवा कार्य निरन्तर किया जा रहा है। इमाम-ए-अस्र कैंसर रिसर्च एण्ड एनसीडी कण्ट्रोल सोसाइटी उत्तर प्रदेश इस समय कैंसर सहित अन्य गैरसंचारी रोगों से लड़ने के लिये जागरूकता, परामर्श और उपचार कार्य कर रही है। यह हजारों वंचित कैंसर सहित गैरसंचारी रोग के रोगियों के लिये आशा की किरण है। अधिकांश मरीज ऐसे हैं जो जीवन यापन करने में असमर्थ हैं। ऐसे मामलों में उपचार कराना उनकी क्षमता से परे है। समाज पूरी तरह से कैंसर सहित गैरसंचारी रोग के रोगियों के उपचार और पुनर्वास के वित्त पोषण, जागरूकता फैलाने, इसकी प्रारम्भिक पहचान सहित अपनी विभिन्न गतिविधियों के लिये सार्वजनिक समर्थन पर निर्भर है। वर्तमान में कोरोना वायरस के इस दौर में जौनपुर में गंगा-जमुना तहजीब देखने को मिल रही है। जहां पूरा देश महामारी से लड़ रहा है, वहीं इमाम-ए-अस्र कैंसर रिसर्च सोसाइटी के कुछ युवा और छात्र लॉक डाउन की वजह से भूखे सो रहे सैकड़ों व असहायों का पेट भर रहे हैं। लॉक डाउन की वजह से गरीब, असहाय, दिव्यांग, भिक्षाटन करने वालों के समक्ष जीवन यापन करने में बहुत बड़ी समस्या खड़ी हो गयी है। ऐसे में यह संस्था आगे बढ़कर गरीबों को भोजन उपलब्ध करवा रही है। संस्थापक असगर अब्बास स्वयं सारे खर्च उठा रहे हैं जिनकी मदद करने के लिये संस्था से जुड़े लोग कर रहे हैं। संस्था के पदाधिकारियों में साबिर हुसैन, सूरज, अमित कुमार, सैय्यद वली हसन, नौशाद, अरबाज, राधाकृष्ण रेड्डी हैं। विश्व हिन्दू परिषद के जिलाध्यक्ष डा. राकेश चन्द्र दुबे के नेतृत्व में परिषद लगातार जरूरतमन्दों की सेवा में कार्यरत है। सोमवार को विहिप कार्यकर्ताओं ने 151 पैकेट सूखा और सौ पैकेट पका हुआ भोजन विभाग प्रचारक संतोष एवं संघ के वरिष्ठ कार्यकर्ता सुरेश की उपस्थिति में प्रशासन के माध्यम से जरूरतमन्दों में वितरित किया। इस आशय की जानकारी देते हुये जिला मीडिया प्रभारी डा. आशीष मिश्र ने बताया कि वितरण का यह कार्यक्रम जब तक स्थिति सामान्य नहीं होती, तब तक लगातार जारी रहेगा। उक्त अवसर पर जन्मेजय तिवारी, शम्भू शर्मा, सुक्खू सिंह, उमेश शर्मा, अजय चौबे, सुनील शर्मा, अरूण कुमार, सतीश निषाद सहित तमाम लोग सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुये मौजूद रहे। मुफ्तीगंज संवाददाता के अनुसार वर्तमान की महामारी से लोगों के समक्ष उत्पन्न हुई आर्थिक संकट देखते हुये समाजसेवी मनीष राय, रमेश तिवारी एवं अमर सिंह यादव ने स्थानीय ब्लाक के मुर्तजाबाद में उपजिलाधिकारी केराकत चन्द्रेश पाठक और चौकी प्रभारी मुफ्तीगंज कमलेश कन्नौजिया के हाथों तमाम जरूरतमन्दों को दैनिक प्रयोग की वस्तुएं जैसे आटा, चावल, अरहर की दाल, नमक, मसाला, सरसो का तेल, साबुन, बिस्किट आदि दिया। वहीं धर्मापुर ब्लाक में यूनियन बैंक गजना के ब्रांच मैनेजर कुशल त्रिपाठी सहित बैंकमित्र जगन्नाथ राय के हाथों तमाम जरूरतमन्दों को दैनिक उपयोगी सामान दिया गया। इस मौके पर शशि राय ने कहा कि भूखे को भोजन कराना और प्यासे को पानी पिलाना भारत की संस्कृति रही है। इस अवसर पर रघुराज यादव, विवेक राय, संदीप राय, झगड़ू दादा सहित तमाम लोग उपस्थित रहे। महराजगंज संवाददाता के अनुसार स्थानीय क्षेत्र के उमरी कला के प्रधानपति करूणेश शर्मा ने इस समय की महामारी में ग्रामवासियों को भूखा न सुलाने देने का वादा किया। इसकी शुरूआत उन्होंने सोमवार को सब्जी व राशन बांट करके कर भी दिया। साथ ही लोगों से अपील किया कि अपने घरों में रहे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। अनावश्यक रूप से घर से बाहर न निकलें। इस अवसर पर प्रधान आशा देवी सहित तमाम उनके सहयोगी मौजूद रहे।

महराजगंज संवाददाता के अनुसार स्थानीय क्षेत्र के उमरी कला के प्रधानपति करूणेश शर्मा ने इस समय की महामारी में ग्रामवासियों को भूखा न सुलाने देने का वादा किया। इसकी शुरूआत उन्होंने सोमवार को सब्जी व राशन बांट करके कर भी दिया। साथ ही लोगों से अपील किया कि अपने घरों में रहे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। अनावश्यक रूप से घर से बाहर न निकलें। इस अवसर पर प्रधान आशा देवी सहित तमाम उनके सहयोगी मौजूद रहे।