अक्षम किसानों के खेतों की मड़ाई के लिये आगे आये सपा जिलाध्यक्ष

जौनपुर। समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष लाल बहादुर यादव ने संवेदनशील पहल की शुरूआत कर दिया है। इस बाबत उन्होंने बताया कि ऐसे छोटे काश्तकार, गरीब, किसान के गेहूं की मड़ाई निःशुल्क कराने की जिम्मेदारी लिया हूं जिनका जीवन यापन सिर्फ खेती से ही चलता हो। उन्होंने कहा कि कोरोना आपदा ने पूरे देश को हिला करके रख दिया है। मजदूर वर्ग के किसान मजदूरी करके अपने खेतों में फसल उगाकर साल भर खाते थे। ऐसी दशा में वे गेहूं की फसल तैयार करके काट भी लिये लेकिन लगातार घर बैठे रहने की वजह से काम पर नहीं जा पा रहे हैं। इसकी वजह से उनके पास पैसा नही है जिसके चलते उनकी फसल खेतों में ही पड़ी है। श्री यादव ने कहा कि इस जमीनी हकीकत को हमने समझा जिसको लेकर वीणा उठाया। इतना ही नहीं, अपने ही गांव से इसकी शुरूआत भी कर दिया हूं। साथ ही उन्होंने सभी समाजवादी साथियों से अपेक्षा किया कि वे भी ऐसे गरीब किसानों की यथासंभव मदद करने का काम करें। यही समाजवादी पार्टी की विचारधारा है। उन्होंने जिलाधिकारी से मांग किया कि वे ऐसे गरीब परिवार के किसानों की सरकार की तरफ निःशुल्क मड़ाई कराने का काम कराने की योजना बनायें।

जौनपुर। समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष लाल बहादुर यादव ने संवेदनशील पहल की शुरूआत कर दिया है। इस बाबत उन्होंने बताया कि ऐसे छोटे काश्तकार, गरीब, किसान के गेहूं की मड़ाई निःशुल्क कराने की जिम्मेदारी लिया हूं जिनका जीवन यापन सिर्फ खेती से ही चलता हो। उन्होंने कहा कि कोरोना आपदा ने पूरे देश को हिला करके रख दिया है।

मजदूर वर्ग के किसान मजदूरी करके अपने खेतों में फसल उगाकर साल भर खाते थे। ऐसी दशा में वे गेहूं की फसल तैयार करके काट भी लिये लेकिन लगातार घर बैठे रहने की वजह से काम पर नहीं जा पा रहे हैं। इसकी वजह से उनके पास पैसा नही है जिसके चलते उनकी फसल खेतों में ही पड़ी है। श्री यादव ने कहा कि इस जमीनी हकीकत को हमने समझा जिसको लेकर वीणा उठाया।

इतना ही नहीं, अपने ही गांव से इसकी शुरूआत भी कर दिया हूं। साथ ही उन्होंने सभी समाजवादी साथियों से अपेक्षा किया कि वे भी ऐसे गरीब किसानों की यथासंभव मदद करने का काम करें। यही समाजवादी पार्टी की विचारधारा है। उन्होंने जिलाधिकारी से मांग किया कि वे ऐसे गरीब परिवार के किसानों की सरकार की तरफ निःशुल्क मड़ाई कराने का काम कराने की योजना बनायें।