बीमार चल रहे तब्लीगी जमात के प्रमुख का निधन

जौनपुर। Google News पर चलने वाला  जिले का पहला न्यूज पोर्टल TejasToday.com आप सब के प्यार और सम्मान से अपनी एक अलग पहचान बना लिया है। यही वजह है कि जौनपुर के लोगों का भरपूर प्यार इस पोर्टल को मिला है। TejasToday.com को इस मुकाम तक पहुंचाने में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से आप लोगों अहम भूमिका रही है। आज TejasToday.com की विजि​टर संख्या 2 करोड़ हो गया है। इस पोर्टल के संचालन होने के नाते मै Deepak Jaiswal आप सबका तहे दिल से शुक्रिया अदा करता हूं, और साथ ही TejasToday.com को इस मुकाम तक पहुंचाने पर हमारे पूज्यनीय मामा जी तेजस टूडे समाचार पत्र के सम्पादक और समूह सम्पादक रामजी जायसवाल की अहम भूमिका रही है मै उनको भी धन्यवाद देता हूं। जो मुझे और आपके TejasToday.com को बहुत ही सर्पोट करके आप सबके बीच लाकर खड़ा किये है। गौरतलब हो कि इस पोर्टल की शुरूआत वर्ष 2018 में हुई थी और आज आप सबके भरपूर प्यार और सम्मान से TejasToday.com न्यूज पोर्टल के 2 करोड़ विजि​टर हो गये है। आपको बताते चले कि TejasToday.com न्यूज पोर्टल के प्रतिदिन के विजिटर लगभग 1.50 है। ये आपका अपना TejasToday.com न्यूज पोर्टल सिर्फ जौनपुर ही नहीं बल्कि सम्पूर्ण भारत के अलावा विदेशों में भी लोग देखते है। आप सबके प्यार और सम्मान ने मुझे इस मुकाम पर पहुंचाया है और यह न्यूज पोर्टल आपका अपना है आप इस तरह अपना प्यार देते रहिए। आपका छोटा भाई Deepak Jaiswal धन्यवाद

जौनपुर। जिले में तब्लीगी जमात के प्रमुख नसीम अहमद का मंगलवार की रात में निधन हो गया। उनकी ​तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें जिला अस्पताल लाया गया था जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। वह ​कई दिनों से बीमार चल रहे थे।

गौरतलब हो कि जिले में कुछ दिन पूर्व छिपे हुए जमाती मिले थे। जिसमें फिरोसेपुर के रहने वाले नसीम अहमद को भी हिरासत में लिया गया था। पुलिस ने उनके खिलाफ संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज किया था। पहले उन्हें शिया कालेज में क्वारंटीन किया गया बाद में उन्हें प्रसाद इंस्टीट्यूट में बने अस्थायी जेल में रख दिया गया। कुछ दिन पूर्व उन्हें हार्ट अटैक आया तो इलाज के लिए बीएचयू रेफर किया गया था बाद में वह वहां से इलाज के बाद जिला अस्पताल में भर्ती हुए और कुछ दिन में वहां से फिर उन्हें प्रसाद में रख दिया गया। मंगलवार की रात ​दोबारा हार्ट अटैक होने पर उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। उनके निधन की सूचना मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया।

अतुल राय जलालपुर, जौनपुर। क्षेत्र के बीबनमऊ गाव के सई नदी के किनारे स्थित प्राचीन हनुमान मंदिर सोमवार की रात्रि लगभग 3 बजे भोर में आये आंधी तूफान की चपेट में आने से मंदिर के बगल में स्थित पीपल का पेड़ धाराशाही हो गया। इसकी चपेट में आने से मंदिर बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया। सुबह हनुमान मंदिर क्षतिग्रस्त होने की खबर लगते ही भारी संख्या में श्रद्धालु भक्तों का तांता लगा रहा। प्राप्त जानकारी के अनुसार मंदिर के समीप लगभग 2 वर्ष पुराना एक पीपल का वृक्ष है जो आंधी तूफान की चपेट में आने के कारण मंदिर के ऊपर गिर गया। जिससे मंदिर की दीवाल छत एवं गुम्मद बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो। गया। वही कुछ लोगो का मानना है कि पीपल का बृक्ष आकाशीय बिजली की चपेट मे आने से गिर गया है। सुबह ग्रामीणों की मदद से मंदिर का मलबा की साफ सफाई का कार्य जारी था। आस्था का महान केन्द्र होने के कारण वैसे तो रोज भक्तों की भीड़ इकट्ठा होती है। परन्तु प्रत्येक मंगलवार को दर्शनार्थियों के कारण मेले जैसा दृश्य दिखाई देता है। मंदिर के पुजारी अनरुध्द बाबा ने मंदिर के जीर्णोद्धार के लिए लोगों से सहयोग राशि की अपील किया है ताकि प्राचीन हनुमान मंदिर के जीर्णोद्धार का कार्य जल्द से जल्द जारी हो सके।
Deepak Jaiswal 7007529997, 9918557796
आप लोगों भरपूर सहयोग और प्यार की वजह से तेजस टूडे डॉट कॉम आज Google News और Dailyhunt जैसे बड़े प्लेटर्फाम पर जगह बना लिया है। आज इसकी पाठक संख्या लगातार बढ़ रही है और इसके लगभग 2 करोड़ विजिटर हो गये है। आपका प्यार ऐसे ही मिलता रहा तो यह पूर्वांचल के साथ साथ भारत में अपना एक अलग पहचान बना लेगा।