रासेयो ने शुरू की मुस्कुरायेगा इण्डिया इनीशिएटिवः राकेश यादव

सिद्दीकपुर, जौनपुर (टीटीएन) 11 अप्रैल। राष्ट्रीय सेवा योजना उत्तर प्रदेश एवं यूनिसेफ ने संयुक्त रूप से मुस्कुरायेगा इण्डिया इनीशिएटिव की शुरूआत की है। यह रासेयो की नयी पहल है। शनिवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से विशेषज्ञों ने वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के चयनित काउंसलरों को प्रशिक्षण दिया। यह काउंसलर विभिन्न जनपदों में कोरोना से लोगों के मन में उत्पन्न भय को दूर करेंगे। इस आशय की जानकारी देते हुये कार्यक्रम समन्वयक डा. राकेश यादव ने बताया कि आजमगढ़, जौनपुर, मऊ एवं गाजीपुर से 5-5 रासेयो के कार्यक्रम अधिकारियों को काउंसलर बनाया गया है। यह कोरोना/कोविड-19 के कारण लोगों के मन में उत्पन्न भय को आनलाइन काउंसलिंग एवं परामर्श के माध्यम से दूर करेंगे। काउंसलर साइको-सोशल काउंसलिंग पर फोकस करेंगे। विवि अनुदान आयोग ने भी इसके लिये दिशा-निर्देश दिया है। श्री यादव ने बताया कि वीडियो कांफ्रेंसिंग में लखनऊ विवि के मनोविज्ञान विभाग की डा. मानिनी श्रीवास्तव, डा. रश्मि सोनी, यूनिसेफ के आफताब मोहम्मद, दयाशंकर सिंह ने प्रशिक्षण दिया। रासेयो के विशेष कार्याधिकारी एवं राज्य सम्पर्क अधिकारी डा. अंशुमाली शर्मा ने कार्यक्रम अधिकारियों से वर्तमान स्थिति के लिये पूर्ण समर्पण देने को कहा। वीडियो कांफ्रेंसिंग में डा. नवीन गुप्ता तकनीकी विशेषज्ञ के रूप में शामिल रहे। जौनपुर के लिसे निम्नलिखित कार्यक्रम अधिकारियों को काउंसलर नियुक्त किया गया है जिनमें डा. श्रीनिवास तिवारी 9415891789, डा. संतोष पाण्डेय 91256 26819, डा. एके मौर्य 9565533533, डा. राममोहन अस्थाना 9415893963 एवं डा. सिद्धार्थ सिंह 8355095031 हैं। श्री यादव ने बताया कि उक्त बैठक में पूरे उत्तर प्रदेश के विभिन्न विश्वविद्यालयों के कार्यक्रम सम्बन्धित नोडल अधिकारी एवं कार्यक्रम अधिकारी सम्मिलित हुये जो काउंसलर नियुक्त किये गये हैं।

सिद्दीकपुर, जौनपुर (टीटीएन) 11 अप्रैल। राष्ट्रीय सेवा योजना उत्तर प्रदेश एवं यूनिसेफ ने संयुक्त रूप से मुस्कुरायेगा इण्डिया इनीशिएटिव की शुरूआत की है। यह रासेयो की नयी पहल है। शनिवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से विशेषज्ञों ने वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के चयनित काउंसलरों को प्रशिक्षण दिया। यह काउंसलर विभिन्न जनपदों में कोरोना से लोगों के मन में उत्पन्न भय को दूर करेंगे।

इस आशय की जानकारी देते हुये कार्यक्रम समन्वयक डा. राकेश यादव ने बताया कि आजमगढ़, जौनपुर, मऊ एवं गाजीपुर से 5-5 रासेयो के कार्यक्रम अधिकारियों को काउंसलर बनाया गया है। यह कोरोना/कोविड-19 के कारण लोगों के मन में उत्पन्न भय को आनलाइन काउंसलिंग एवं परामर्श के माध्यम से दूर करेंगे। काउंसलर साइको-सोशल काउंसलिंग पर फोकस करेंगे। विवि अनुदान आयोग ने भी इसके लिये दिशा-निर्देश दिया है।

श्री यादव ने बताया कि वीडियो कांफ्रेंसिंग में लखनऊ विवि के मनोविज्ञान विभाग की डा. मानिनी श्रीवास्तव, डा. रश्मि सोनी, यूनिसेफ के आफताब मोहम्मद, दयाशंकर सिंह ने प्रशिक्षण दिया। रासेयो के विशेष कार्याधिकारी एवं राज्य सम्पर्क अधिकारी डा. अंशुमाली शर्मा ने कार्यक्रम अधिकारियों से वर्तमान स्थिति के लिये पूर्ण समर्पण देने को कहा। वीडियो कांफ्रेंसिंग में डा. नवीन गुप्ता तकनीकी विशेषज्ञ के रूप में शामिल रहे।

जौनपुर के लिसे निम्नलिखित कार्यक्रम अधिकारियों को काउंसलर नियुक्त किया गया है जिनमें डा. श्रीनिवास तिवारी 9415891789, डा. संतोष पाण्डेय 91256 26819, डा. एके मौर्य 9565533533, डा. राममोहन अस्थाना 9415893963 एवं डा. सिद्धार्थ सिंह 8355095031 हैं। श्री यादव ने बताया कि उक्त बैठक में पूरे उत्तर प्रदेश के विभिन्न विश्वविद्यालयों के कार्यक्रम सम्बन्धित नोडल अधिकारी एवं कार्यक्रम अधिकारी सम्मिलित हुये जो काउंसलर नियुक्त किये गये हैं।