अब बिना मोबाइल नम्बर के अब प्रॉक्सी की सुविधा नहीं

जौनपुर। जिलापूर्ति अधिकारी अजय प्रताप सिंह ने बताया कि कार्डधारक के मोबाइल नम्बर के बिना अब प्राक्सी से राशन नहीं मिलेगा। प्राक्सी को खोलने के लिये कार्डधारक या किसी अन्य सदस्य के मोबाइल नम्बर को दर्ज करने के बाद ही प्राक्सी की अनुमति दी जायेगी। यदि कार्डधारक का मोबाइल नम्बर वैलिड नहीं हुआ तो प्राक्सी ट्रान्जेक्शन आगे नहीं बढ़ेगा। शासन ने प्राक्सी के जरिये हो रही धांधली रोकने के लिये यह नया कदम उठाया है। उन्होंने कहा क अभी तक अधिकांश शिकायतें आती थीं कि कोटेदार फर्जी मोबाइल नम्बर डालकर प्राक्सी के माध्यम से खाद्यान्न की धांधली करते हैं, मगर अब ऐसा नहीं हो सकेगा। 11 मई को प्राक्सी मशीन से राशन वितरण करने हेतु शासन द्वारा निर्देशित किया गया है। इस सम्बन्ध में जनपद के समस्त कार्डधारकों से अनुरोध है कि वे कोटेदार के यहां राशन लेते जाने समय अपना बैलिड मोबाइन नम्बर (जो राशन कार्ड अथवा आधार कार्ड में अंकित कराया गया हो) को अपने साथ अवश्य लेकर जायं, ताकि ई-पास मशीन में मोबाइल नम्बर अंकित कर कोटेदार द्वारा खाद्यान्न दिया जा सके। उन्होंने कहा कि यदि कोई कोटेदार इसके बाद भी कालाबाजारी या नियमों का उल्लंघन करता है तो उसके विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जायेगी।

जौनपुर। जिलापूर्ति अधिकारी अजय प्रताप सिंह ने बताया कि कार्डधारक के मोबाइल नम्बर के बिना अब प्राक्सी से राशन नहीं मिलेगा। प्राक्सी को खोलने के लिये कार्डधारक या किसी अन्य सदस्य के मोबाइल नम्बर को दर्ज करने के बाद ही प्राक्सी की अनुमति दी जायेगी। यदि कार्डधारक का मोबाइल नम्बर वैलिड नहीं हुआ तो प्राक्सी ट्रान्जेक्शन आगे नहीं बढ़ेगा। शासन ने प्राक्सी के जरिये हो रही धांधली रोकने के लिये यह नया कदम उठाया है।

प्रधान पर ग्रामीणों ने लगाया घोटाले का आरोप

उन्होंने कहा क अभी तक अधिकांश शिकायतें आती थीं कि कोटेदार फर्जी मोबाइल नम्बर डालकर प्राक्सी के माध्यम से खाद्यान्न की धांधली करते हैं, मगर अब ऐसा नहीं हो सकेगा। 11 मई को प्राक्सी मशीन से राशन वितरण करने हेतु शासन द्वारा निर्देशित किया गया है। इस सम्बन्ध में जनपद के समस्त कार्डधारकों से अनुरोध है कि वे कोटेदार के यहां राशन लेते जाने समय अपना बैलिड मोबाइन नम्बर (जो राशन कार्ड अथवा आधार कार्ड में अंकित कराया गया हो) को अपने साथ अवश्य लेकर जायं, ताकि ई-पास मशीन में मोबाइल नम्बर अंकित कर कोटेदार द्वारा खाद्यान्न दिया जा सके। उन्होंने कहा कि यदि कोई कोटेदार इसके बाद भी कालाबाजारी या नियमों का उल्लंघन करता है तो उसके विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जायेगी।

जौनपुर। जिलापूर्ति अधिकारी अजय प्रताप सिंह ने बताया कि कार्डधारक के मोबाइल नम्बर के बिना अब प्राक्सी से राशन नहीं मिलेगा। प्राक्सी को खोलने के लिये कार्डधारक या किसी अन्य सदस्य के मोबाइल नम्बर को दर्ज करने के बाद ही प्राक्सी की अनुमति दी जायेगी। यदि कार्डधारक का मोबाइल नम्बर वैलिड नहीं हुआ तो प्राक्सी ट्रान्जेक्शन आगे नहीं बढ़ेगा। शासन ने प्राक्सी के जरिये हो रही धांधली रोकने के लिये यह नया कदम उठाया है। https://tejastoday.com/the-villagers-accused-the-head-of-the-scam/ उन्होंने कहा क अभी तक अधिकांश शिकायतें आती थीं कि कोटेदार फर्जी मोबाइल नम्बर डालकर प्राक्सी के माध्यम से खाद्यान्न की धांधली करते हैं, मगर अब ऐसा नहीं हो सकेगा। 11 मई को प्राक्सी मशीन से राशन वितरण करने हेतु शासन द्वारा निर्देशित किया गया है। इस सम्बन्ध में जनपद के समस्त कार्डधारकों से अनुरोध है कि वे कोटेदार के यहां राशन लेते जाने समय अपना बैलिड मोबाइन नम्बर (जो राशन कार्ड अथवा आधार कार्ड में अंकित कराया गया हो) को अपने साथ अवश्य लेकर जायं, ताकि ई-पास मशीन में मोबाइल नम्बर अंकित कर कोटेदार द्वारा खाद्यान्न दिया जा सके। उन्होंने कहा कि यदि कोई कोटेदार इसके बाद भी कालाबाजारी या नियमों का उल्लंघन करता है तो उसके विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जायेगी।
Deepak Jaiswal 7007529997, 9918557796
आप लोगों भरपूर सहयोग और प्यार की वजह से तेजस टूडे डॉट कॉम आज Google News और Dailyhunt जैसे बड़े प्लेटर्फाम पर जगह बना लिया है। आज इसकी पाठक संख्या लगातार बढ़ रही है और इसके लगभग 2 करोड़ विजिटर हो गये है। आपका प्यार ऐसे ही मिलता रहा तो यह पूर्वांचल के साथ साथ भारत में अपना एक अलग पहचान बना लेगा।