प्रधानमंत्री मोदी के आह्वान पर सेवा कार्य में उतरे मनीष चौरसिया

समाजसेवी ने कहा- प्रतिदिन 2 सौ परिवारों को दिये जायेंगे राशन जौनपुर (टीटीएन) 13 अप्रैल। कोरोना वायरस के रूप में देश में फैली महामारी को देखते हुये लागू किये गये लॉक डाउन के बाबत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आह्वान पर सेवा कार्य किया जा रहा है। उनको अपना आदर्श मानने के साथ ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के दिशा निर्देश पर इस सेवा कार्य की शुरूआत हो गयी है। उक्त बातें समाजसेवी मनीष चौरसिया ने प्रेस को जारी बयान के माध्यम से कही। साथ ही अपील किया कि कोरोना जैसे आपदा के बाबत लागू लॉक डाउन का पालन करते हुये लोग घर में सुरक्षित रहें। वहीं उन्होंने कहा कि संकट की इस घड़ी में अक्षम लोग भूखे न रहें, इस उद्देश्य के साथ खाने-पीने के सामान सहित अन्य आवश्यक वस्तुएं उन्हें उपलब्ध करायी जा रही है। प्रतिदिन 2 सौ लोगों का लक्ष्य लेकर सेवा कार्य में उतरे श्री चौरसिया ने बताया कि सोमवार को अपने पूर्वज गांव भैंसनी के अलावा रूहट्टा, काली कुत्ती, पान दरीबा, मिसिरपुर, प्रेमराजपुर, खान पट्टी, हरदीपुर, जोगियापुर, नखास सहित अन्य मोहल्लों व गांवों में सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुये जरूरतमन्द परिवार को राशन उपलब्ध कराया गया।

समाजसेवी ने कहा- प्रतिदिन 2 सौ परिवारों को दिये जायेंगे राशन

जौनपुर (टीटीएन) 13 अप्रैल। कोरोना वायरस के रूप में देश में फैली महामारी को देखते हुये लागू किये गये लॉक डाउन के बाबत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आह्वान पर सेवा कार्य किया जा रहा है। उनको अपना आदर्श मानने के साथ ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के दिशा निर्देश पर इस सेवा कार्य की शुरूआत हो गयी है।
उक्त बातें समाजसेवी मनीष चौरसिया ने प्रेस को जारी बयान के माध्यम से कही। साथ ही अपील किया कि कोरोना जैसे आपदा के बाबत लागू लॉक डाउन का पालन करते हुये लोग घर में सुरक्षित रहें। वहीं उन्होंने कहा कि संकट की इस घड़ी में अक्षम लोग भूखे न रहें, इस उद्देश्य के साथ खाने-पीने के सामान सहित अन्य आवश्यक वस्तुएं उन्हें उपलब्ध करायी जा रही है।
प्रतिदिन 2 सौ लोगों का लक्ष्य लेकर सेवा कार्य में उतरे श्री चौरसिया ने बताया कि सोमवार को अपने पूर्वज गांव भैंसनी के अलावा रूहट्टा, काली कुत्ती, पान दरीबा, मिसिरपुर, प्रेमराजपुर, खान पट्टी, हरदीपुर, जोगियापुर, नखास सहित अन्य मोहल्लों व गांवों में सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुये जरूरतमन्द परिवार को राशन उपलब्ध कराया गया।