Monday, November 28, 2022
Advertisement

आईआईएसई ने दिया पर्यावरण संरक्षण का संदेश

आईआईएसई ने लिया पर्यावरण सुरक्षा का संकल्प पौधरोपण कार्यक्रम आयोजित, ऑनलाइन दर्ज कराई मौजूदगी छात्रों और शिक्षकों ने पौधों की सुरक्षा की शपथ ली लखनऊ। कल्याणपुर स्थित आईआईएसई ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस में शुक्रवार को विश्व पर्यावरण दिवस के अवसरपर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। वैश्विक महामारी कोरोना के खिलाफ लड़ाई को मजबूत करने के लिए छात्रों और अध्यापकों को ‘स्टे होम, स्टे सेफ’ के तहत ऑनलाइन शपथ दिलाकर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया गया। सभी छात्रों और कॉलेज स्टाफ को अपने घरों के आसपास एक पौधा लगाकर ऑनलाइन तस्वीर शेयर करने को कहा गया। उन्हें जीवनपर्यंत पौधे की सुरक्षा करने का संकल्प भी दिलाया गया। मानवता का सबसे बड़ा उद्देश्य कार्यक्रम में आईआईएसई की सीएमडी फिरदौस सिद्दीकी ने कहा कि विश्व पर्यावरण दिवस संकल्प लेने का दिन है। वर्तमान समय में जब पूरा विश्व कोरोना से जूझ रहा है तो वृक्षों, जलाशयों और पर्यावरण से जुड़ी चीजों का संरक्षण करना ही मानवता का सबसे बड़ा उद्देश्य होना चाहिए। अन्यथा हम अपनी आने वाली पीढिय़ों के लिए एक शून्य छोडक़र जाएंगे, जो कभी भी पूरा नहीं हो पाएगा। पर्यावरण की स्थिति प्रदूषण और ग्लोबल वार्मिंग के कारण दिन-प्रतिदिन गिरती जा रही है। बेहतर भविष्य के लिए पर्यावरण की सुरक्षा के लिए देश में पर्यावरण के अनुकूल विकास को बढ़ावा देना चाहिए। प्लास्टिक से बनाएं दूरी फिल्म इंस्टीट्यूट ऑफ इमिट्स (फीमिट्स) के प्रेसीडेंट पीके सिंह ने कहा कि इस पर्यावरण दिवस पर आप अपने घर या आसपास पौधे लगाएं। पौधे लगाने से पर्यावरण में ऑक्सीजन की मात्रा सही बनी रहती है और जीव-जन्तु भी स्वस्थ रहते हैं। उन्होंने संदेश दिया कि इस पर्यावरण दिवस पर अपने घर के सामान को री-साइकिल करने की जरूर ठानें। सिंगल यूज प्लास्टिक पॉल्यूशन फैला रहा है, इसलिए सब्जी व सामान के लिए कपड़े की थैलियां रखें। अगर आपको इधर-उधर थूकने की आदत है तो उसे आज ही सुधारें। महामारी कोरोना को फैलने से रोकने के लिए भी यह बहुत जरूरी है। इस मौके पर कॉलेज के समस्त विभागाध्यक्षों, शिक्षकों और छात्रों ने ऑनलाइन मौजूदगी दर्ज कराकर जागरूकता की इस मुहिम में पूरा सहयोग देने का संकल्प लिया।

आईआईएसई ने लिया पर्यावरण सुरक्षा का संकल्प पौधरोपण कार्यक्रम आयोजित, ऑनलाइन दर्ज कराई मौजूदगी

छात्रों और शिक्षकों ने पौधों की सुरक्षा की शपथ ली

लखनऊ। कल्याणपुर स्थित आईआईएसई ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस में शुक्रवार को विश्व पर्यावरण दिवस के अवसरपर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। वैश्विक महामारी कोरोना के खिलाफ लड़ाई को मजबूत करने के लिए छात्रों और अध्यापकों को ‘स्टे होम, स्टे सेफ’ के तहत ऑनलाइन शपथ दिलाकर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया गया। सभी छात्रों और कॉलेज स्टाफ को अपने घरों के आसपास एक पौधा लगाकर ऑनलाइन तस्वीर शेयर करने को कहा गया। उन्हें जीवनपर्यंत पौधे की सुरक्षा करने का संकल्प भी दिलाया गया।

आईआईएसई ने लिया पर्यावरण सुरक्षा का संकल्प पौधरोपण कार्यक्रम आयोजित, ऑनलाइन दर्ज कराई मौजूदगी  छात्रों और शिक्षकों ने पौधों की सुरक्षा की शपथ ली  लखनऊ। कल्याणपुर स्थित आईआईएसई ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस में शुक्रवार को विश्व पर्यावरण दिवस के अवसरपर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। वैश्विक महामारी कोरोना के खिलाफ लड़ाई को मजबूत करने के लिए छात्रों और अध्यापकों को ‘स्टे होम, स्टे सेफ’ के तहत ऑनलाइन शपथ दिलाकर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया गया। सभी छात्रों और कॉलेज स्टाफ को अपने घरों के आसपास एक पौधा लगाकर ऑनलाइन तस्वीर शेयर करने को कहा गया। उन्हें जीवनपर्यंत पौधे की सुरक्षा करने का संकल्प भी दिलाया गया।  मानवता का सबसे बड़ा उद्देश्य कार्यक्रम में आईआईएसई की सीएमडी फिरदौस सिद्दीकी ने कहा कि विश्व पर्यावरण दिवस संकल्प लेने का दिन है। वर्तमान समय में जब पूरा विश्व कोरोना से जूझ रहा है तो वृक्षों, जलाशयों और पर्यावरण से जुड़ी चीजों का संरक्षण करना ही मानवता का सबसे बड़ा उद्देश्य होना चाहिए। अन्यथा हम अपनी आने वाली पीढिय़ों के लिए एक शून्य छोडक़र जाएंगे, जो कभी भी पूरा नहीं हो पाएगा। पर्यावरण की स्थिति प्रदूषण और ग्लोबल वार्मिंग के कारण दिन-प्रतिदिन गिरती जा रही है। बेहतर भविष्य के लिए पर्यावरण की सुरक्षा के लिए देश में पर्यावरण के अनुकूल विकास को बढ़ावा देना चाहिए। प्लास्टिक से बनाएं दूरी फिल्म इंस्टीट्यूट ऑफ इमिट्स (फीमिट्स) के प्रेसीडेंट पीके सिंह ने कहा कि इस पर्यावरण दिवस पर आप अपने घर या आसपास पौधे लगाएं। पौधे लगाने से पर्यावरण में ऑक्सीजन की मात्रा सही बनी रहती है और जीव-जन्तु भी स्वस्थ रहते हैं। उन्होंने संदेश दिया कि इस पर्यावरण दिवस पर अपने घर के सामान को री-साइकिल करने की जरूर ठानें। सिंगल यूज प्लास्टिक पॉल्यूशन फैला रहा है, इसलिए सब्जी व सामान के लिए कपड़े की थैलियां रखें। अगर आपको इधर-उधर थूकने की आदत है तो उसे आज ही सुधारें। महामारी कोरोना को फैलने से रोकने के लिए भी यह बहुत जरूरी है। इस मौके पर कॉलेज के समस्त विभागाध्यक्षों, शिक्षकों और छात्रों ने ऑनलाइन मौजूदगी दर्ज कराकर जागरूकता की इस मुहिम में पूरा सहयोग देने का संकल्प लिया।
मानवता का सबसे बड़ा उद्देश्य
कार्यक्रम में आईआईएसई की सीएमडी फिरदौस सिद्दीकी ने कहा कि विश्व पर्यावरण दिवस संकल्प लेने का दिन है। वर्तमान समय में जब पूरा विश्व कोरोना से जूझ रहा है तो वृक्षों, जलाशयों और पर्यावरण से जुड़ी चीजों का संरक्षण करना ही मानवता का सबसे बड़ा उद्देश्य होना चाहिए। अन्यथा हम अपनी आने वाली पीढिय़ों के लिए एक शून्य छोडक़र जाएंगे, जो कभी भी पूरा नहीं हो पाएगा। पर्यावरण की स्थिति प्रदूषण और ग्लोबल वार्मिंग के कारण दिन-प्रतिदिन गिरती जा रही है। बेहतर भविष्य के लिए पर्यावरण की सुरक्षा के लिए देश में पर्यावरण के अनुकूल विकास को बढ़ावा देना चाहिए।
प्लास्टिक से बनाएं दूरी
फिल्म इंस्टीट्यूट ऑफ इमिट्स (फीमिट्स) के प्रेसीडेंट पीके सिंह ने कहा कि इस पर्यावरण दिवस पर आप अपने घर या आसपास पौधे लगाएं। पौधे लगाने से पर्यावरण में ऑक्सीजन की मात्रा सही बनी रहती है और जीव-जन्तु भी स्वस्थ रहते हैं। उन्होंने संदेश दिया कि इस पर्यावरण दिवस पर अपने घर के सामान को री-साइकिल करने की जरूर ठानें। सिंगल यूज प्लास्टिक पॉल्यूशन फैला रहा है, इसलिए सब्जी व सामान के लिए कपड़े की थैलियां रखें। अगर आपको इधर-उधर थूकने की आदत है तो उसे आज ही सुधारें। महामारी कोरोना को फैलने से रोकने के लिए भी यह बहुत जरूरी है। इस मौके पर कॉलेज के समस्त विभागाध्यक्षों, शिक्षकों और छात्रों ने ऑनलाइन मौजूदगी दर्ज कराकर जागरूकता की इस मुहिम में पूरा सहयोग देने का संकल्प लिया।

आईआईएसई ने लिया पर्यावरण सुरक्षा का संकल्प पौधरोपण कार्यक्रम आयोजित, ऑनलाइन दर्ज कराई मौजूदगी  छात्रों और शिक्षकों ने पौधों की सुरक्षा की शपथ ली  लखनऊ। कल्याणपुर स्थित आईआईएसई ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस में शुक्रवार को विश्व पर्यावरण दिवस के अवसरपर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। वैश्विक महामारी कोरोना के खिलाफ लड़ाई को मजबूत करने के लिए छात्रों और अध्यापकों को ‘स्टे होम, स्टे सेफ’ के तहत ऑनलाइन शपथ दिलाकर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया गया। सभी छात्रों और कॉलेज स्टाफ को अपने घरों के आसपास एक पौधा लगाकर ऑनलाइन तस्वीर शेयर करने को कहा गया। उन्हें जीवनपर्यंत पौधे की सुरक्षा करने का संकल्प भी दिलाया गया।  मानवता का सबसे बड़ा उद्देश्य कार्यक्रम में आईआईएसई की सीएमडी फिरदौस सिद्दीकी ने कहा कि विश्व पर्यावरण दिवस संकल्प लेने का दिन है। वर्तमान समय में जब पूरा विश्व कोरोना से जूझ रहा है तो वृक्षों, जलाशयों और पर्यावरण से जुड़ी चीजों का संरक्षण करना ही मानवता का सबसे बड़ा उद्देश्य होना चाहिए। अन्यथा हम अपनी आने वाली पीढिय़ों के लिए एक शून्य छोडक़र जाएंगे, जो कभी भी पूरा नहीं हो पाएगा। पर्यावरण की स्थिति प्रदूषण और ग्लोबल वार्मिंग के कारण दिन-प्रतिदिन गिरती जा रही है। बेहतर भविष्य के लिए पर्यावरण की सुरक्षा के लिए देश में पर्यावरण के अनुकूल विकास को बढ़ावा देना चाहिए। प्लास्टिक से बनाएं दूरी फिल्म इंस्टीट्यूट ऑफ इमिट्स (फीमिट्स) के प्रेसीडेंट पीके सिंह ने कहा कि इस पर्यावरण दिवस पर आप अपने घर या आसपास पौधे लगाएं। पौधे लगाने से पर्यावरण में ऑक्सीजन की मात्रा सही बनी रहती है और जीव-जन्तु भी स्वस्थ रहते हैं। उन्होंने संदेश दिया कि इस पर्यावरण दिवस पर अपने घर के सामान को री-साइकिल करने की जरूर ठानें। सिंगल यूज प्लास्टिक पॉल्यूशन फैला रहा है, इसलिए सब्जी व सामान के लिए कपड़े की थैलियां रखें। अगर आपको इधर-उधर थूकने की आदत है तो उसे आज ही सुधारें। महामारी कोरोना को फैलने से रोकने के लिए भी यह बहुत जरूरी है। इस मौके पर कॉलेज के समस्त विभागाध्यक्षों, शिक्षकों और छात्रों ने ऑनलाइन मौजूदगी दर्ज कराकर जागरूकता की इस मुहिम में पूरा सहयोग देने का संकल्प लिया।
Deepak Jaiswal 7007529997, 9918557796
आप लोगों भरपूर सहयोग और प्यार की वजह से तेजस टूडे डॉट कॉम आज Google News और Dailyhunt जैसे बड़े प्लेटर्फाम पर जगह बना लिया है। आज इसकी पाठक संख्या लगातार बढ़ रही है और इसके लगभग 2 करोड़ विजिटर हो गये है। आपका प्यार ऐसे ही मिलता रहा तो यह पूर्वांचल के साथ साथ भारत में अपना एक अलग पहचान बना लेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Read More

Recent