शूरवीरों का बलिदान नहीं भूलेगा हिन्दुस्तान

सईद को  मारना ही शहीदों की शहादत की सच्ची श्रद्धांजलि होगीः विनोद कुमार जौनपुर। आज जहां पूरी दुनिया कोरोना वायरस जैसी महामारी से लड़ रही है, वहीं आंकड़े की बात करें तो पूरी दुनिया में 30 लाख से ज्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। मौत का आंकड़ा 3 लाख के करीब पहुंचने वाला है। पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है जो लगातार सीज फायर का उल्लंघन कर रहा है। कश्मीर में आतंकवादी गतिविधियों को अंजाम दे रहा है। ऐसे में कश्मीर के हंदवाड़ा में आंतकवादियों द्वारा एक परिवार को बंधक बनाये जाने को लेकर रेस्क्यू चल रहा था। भारतीय सेना ने अपनी शौर्यता का परिचय देते हुये लश्कर के कश्मीर कमाण्डर हैदर समेत दो लोगों को मारकर बड़े आतंकी हमले की साजिश को नाकाम कर दिया। हमले में भारतीय सेना के 5 जवान (मेजर आशुतोष शर्मा, मेजर अनुज सूद, लांस नायक दिनेश, नायक राजेश, उपनिरीक्षक शकील काजी) शहीद हो गये। ऐसे में लोगों का कहना है कि पाकिस्तान में घुसकर लश्कर सरगना हाफिज सईद को मारना ही शहीदों की शहादत के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी। इसी को लेकर केराकत क्षेत्र के भौरा निवासी शहीद संजय सिंह के पिता श्याम नारायण सिंह का कहना है कि विश्व आज कोरोना महामारी से जूझ रहा है। सभी देश उस महामारी से निपटने की खोज में लगे हैं। वहीं पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। यूं तो रमजान का पावन महीना है परंतु पाकिस्तान की हरकत अब बर्दाश्त से बाहर है। अब वह समय आ चुका है जब पाकिस्तान को उसकी करनी का माकूल जबाब दिया जाय। इस समय पूरे देश में पक्ष-विपक्ष को एक होकर देश के दुश्मनों को करारा जवाब देना चाहिये, यही सच्ची श्रद्धांजलि होगी। केराकत पत्रकार संघ के अध्यक्ष अमित सिंह ने बताया कि सैनिक और सन्त की एक ही गति होती है। दोनों मातृभूमि के प्रति समर्पित होकर स्वर्गलोक को प्राप्त होते हैं। उनके प्रति सभी के मन में सम्मान का भाव होना चाहिये। भारत जमीन का टुकड़ा नहीं है। यह जीता जागता राष्ट्र है। उन्होंने कहा कि सरहद पर शहीद होने वाले वीर सैनिकों के सम्मान में कई योजनाएं चलानी जानी चाहिये। इसी क्रम में सेनापुर के ग्राम प्रधान रमेश कुमार ने बताया कि धन्य होते हैं वह लोग जो देश के काम आते हैं। ऐसे वीर शहीदों की शहादत को देश जन्मजन्मांतर तक याद करता रहेगा। उन सभी शहीद परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट करता हूं। साथ ही सरकार से निवेदन भी करना चाहूंगा कि शहीदों की शहादत का बदला हाफिज सईद के खात्मे के साथ ही सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

सईद को मारना ही शहीदों की शहादत की सच्ची श्रद्धांजलि होगीः विनोद कुमार

जौनपुर। आज जहां पूरी दुनिया कोरोना वायरस जैसी महामारी से लड़ रही है, वहीं आंकड़े की बात करें तो पूरी दुनिया में 30 लाख से ज्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। मौत का आंकड़ा 3 लाख के करीब पहुंचने वाला है। पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है जो लगातार सीज फायर का उल्लंघन कर रहा है। कश्मीर में आतंकवादी गतिविधियों को अंजाम दे रहा है। ऐसे में कश्मीर के हंदवाड़ा में आंतकवादियों द्वारा एक परिवार को बंधक बनाये जाने को लेकर रेस्क्यू चल रहा था। भारतीय सेना ने अपनी शौर्यता का परिचय देते हुये लश्कर के कश्मीर कमाण्डर हैदर समेत दो लोगों को मारकर बड़े आतंकी हमले की साजिश को नाकाम कर दिया। हमले में भारतीय सेना के 5 जवान (मेजर आशुतोष शर्मा, मेजर अनुज सूद, लांस नायक दिनेश, नायक राजेश, उपनिरीक्षक शकील काजी) शहीद हो गये। ऐसे में लोगों का कहना है कि पाकिस्तान में घुसकर लश्कर सरगना हाफिज सईद को मारना ही शहीदों की शहादत के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

Jaunpur : सांसद के इस रवैये से जनता में उनके प्रति आक्रोश, जानिए क्या किये सासंद श्याम सिंह यादव

इसी को लेकर केराकत क्षेत्र के भौरा निवासी शहीद संजय सिंह के पिता श्याम नारायण सिंह का कहना है कि विश्व आज कोरोना महामारी से जूझ रहा है। सभी देश उस महामारी से निपटने की खोज में लगे हैं। वहीं पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। यूं तो रमजान का पावन महीना है परंतु पाकिस्तान की हरकत अब बर्दाश्त से बाहर है। अब वह समय आ चुका है जब पाकिस्तान को उसकी करनी का माकूल जबाब दिया जाय। इस समय पूरे देश में पक्ष-विपक्ष को एक होकर देश के दुश्मनों को करारा जवाब देना चाहिये, यही सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

केराकत पत्रकार संघ के अध्यक्ष अमित सिंह ने बताया कि सैनिक और सन्त की एक ही गति होती है। दोनों मातृभूमि के प्रति समर्पित होकर स्वर्गलोक को प्राप्त होते हैं। उनके प्रति सभी के मन में सम्मान का भाव होना चाहिये। भारत जमीन का टुकड़ा नहीं है। यह जीता जागता राष्ट्र है। उन्होंने कहा कि सरहद पर शहीद होने वाले वीर सैनिकों के सम्मान में कई योजनाएं चलानी जानी चाहिये।

इसी क्रम में सेनापुर के ग्राम प्रधान रमेश कुमार ने बताया कि धन्य होते हैं वह लोग जो देश के काम आते हैं। ऐसे वीर शहीदों की शहादत को देश जन्मजन्मांतर तक याद करता रहेगा। उन सभी शहीद परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट करता हूं। साथ ही सरकार से निवेदन भी करना चाहूंगा कि शहीदों की शहादत का बदला हाफिज सईद के खात्मे के साथ ही सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

सईद को मारना ही शहीदों की शहादत की सच्ची श्रद्धांजलि होगीः विनोद कुमार  जौनपुर। आज जहां पूरी दुनिया कोरोना वायरस जैसी महामारी से लड़ रही है, वहीं आंकड़े की बात करें तो पूरी दुनिया में 30 लाख से ज्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। मौत का आंकड़ा 3 लाख के करीब पहुंचने वाला है। पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है जो लगातार सीज फायर का उल्लंघन कर रहा है। कश्मीर में आतंकवादी गतिविधियों को अंजाम दे रहा है। ऐसे में कश्मीर के हंदवाड़ा में आंतकवादियों द्वारा एक परिवार को बंधक बनाये जाने को लेकर रेस्क्यू चल रहा था। भारतीय सेना ने अपनी शौर्यता का परिचय देते हुये लश्कर के कश्मीर कमाण्डर हैदर समेत दो लोगों को मारकर बड़े आतंकी हमले की साजिश को नाकाम कर दिया। हमले में भारतीय सेना के 5 जवान (मेजर आशुतोष शर्मा, मेजर अनुज सूद, लांस नायक दिनेश, नायक राजेश, उपनिरीक्षक शकील काजी) शहीद हो गये। ऐसे में लोगों का कहना है कि पाकिस्तान में घुसकर लश्कर सरगना हाफिज सईद को मारना ही शहीदों की शहादत के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी। इसी को लेकर केराकत क्षेत्र के भौरा निवासी शहीद संजय सिंह के पिता श्याम नारायण सिंह का कहना है कि विश्व आज कोरोना महामारी से जूझ रहा है। सभी देश उस महामारी से निपटने की खोज में लगे हैं। वहीं पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। यूं तो रमजान का पावन महीना है परंतु पाकिस्तान की हरकत अब बर्दाश्त से बाहर है। अब वह समय आ चुका है जब पाकिस्तान को उसकी करनी का माकूल जबाब दिया जाय। इस समय पूरे देश में पक्ष-विपक्ष को एक होकर देश के दुश्मनों को करारा जवाब देना चाहिये, यही सच्ची श्रद्धांजलि होगी। केराकत पत्रकार संघ के अध्यक्ष अमित सिंह ने बताया कि सैनिक और सन्त की एक ही गति होती है। दोनों मातृभूमि के प्रति समर्पित होकर स्वर्गलोक को प्राप्त होते हैं। उनके प्रति सभी के मन में सम्मान का भाव होना चाहिये। भारत जमीन का टुकड़ा नहीं है। यह जीता जागता राष्ट्र है। उन्होंने कहा कि सरहद पर शहीद होने वाले वीर सैनिकों के सम्मान में कई योजनाएं चलानी जानी चाहिये। इसी क्रम में सेनापुर के ग्राम प्रधान रमेश कुमार ने बताया कि धन्य होते हैं वह लोग जो देश के काम आते हैं। ऐसे वीर शहीदों की शहादत को देश जन्मजन्मांतर तक याद करता रहेगा। उन सभी शहीद परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट करता हूं। साथ ही सरकार से निवेदन भी करना चाहूंगा कि शहीदों की शहादत का बदला हाफिज सईद के खात्मे के साथ ही सच्ची श्रद्धांजलि होगी।
Deepak Jaiswal 7007529997, 9918557796
आप लोगों भरपूर सहयोग और प्यार की वजह से तेजस टूडे डॉट कॉम आज Google News और Dailyhunt जैसे बड़े प्लेटर्फाम पर जगह बना लिया है। आज इसकी पाठक संख्या लगातार बढ़ रही है और इसके लगभग 2 करोड़ विजिटर हो गये है। आपका प्यार ऐसे ही मिलता रहा तो यह पूर्वांचल के साथ साथ भारत में अपना एक अलग पहचान बना लेगा।