जिलाधिकारी ने शेल्टर होम व कम्युनिटी किचन का किया निरीक्षण

जौनपुर। जिलाधिकारी दिनेश सिंह ने स्वामी विवेकानन्द इण्टर कालेज मड़ियाहूं में बने शेल्टर होम सहित नगर पंचायत एवं तहसील द्वारा संचालित कम्युनिटी किचन का निरीक्षण कियाा। इस दौरान उन्होंने शेल्टर होम में रह रहे लोगों से समस्याओं के बारे में पूछा। साथ ही कहा कि एक-दूसरे से कम से कम दो-दो मीटर की दूरी बनाकर रहें। उन्होंने कहा कि शेल्टर होम में रह रहे लोग तथा गरीब, असहाय एवं निराश्रितों को राशन व भोजन के पैकेट उपलब्ध कराते रहें। उनके पास खाने-पीने की कोई कमी न होने दें। इसी क्रम में उन्होंने घुमंतू परिवारों को भोजन के पैकेट व राशन उपलब्ध कराया जिसके बाद मड़ियाहूं तहसील के पाली सुमेला गांव में जाकर लोगों का हालचाल पूछा एवं राशन वितरण की जानकारी लिया। गांव के जब्बार ने बताया कि कोटेदार द्वारा उन्हें 7 यूनिट पर 10 किलो चावल दिया गया। इसी तरह मुर्तजा को 6 यूनिट पर 10 किलो चावल दिया गया। धन्नो ने शिकायत किया कि उनका नाम कोटे से काट दिया गया है जिस पर जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी मड़ियाहूं को निर्देश दिया कि कोटेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराकर उसे तत्काल जेल भेजा जाय। इसी क्रम में जिलाधिकारी ने पाली वालों को राशन एवं भोजन के पैकेट दिया जहां तमाम लोग उपस्थित रहे।

जौनपुर। जिलाधिकारी दिनेश सिंह ने स्वामी विवेकानन्द इण्टर कालेज मड़ियाहूं में बने शेल्टर होम सहित नगर पंचायत एवं तहसील द्वारा संचालित कम्युनिटी किचन का निरीक्षण कियाा। इस दौरान उन्होंने शेल्टर होम में रह रहे लोगों से समस्याओं के बारे में पूछा। साथ ही कहा कि एक-दूसरे से कम से कम दो-दो मीटर की दूरी बनाकर रहें।

उन्होंने कहा कि शेल्टर होम में रह रहे लोग तथा गरीब, असहाय एवं निराश्रितों को राशन व भोजन के पैकेट उपलब्ध कराते रहें। उनके पास खाने-पीने की कोई कमी न होने दें। इसी क्रम में उन्होंने घुमंतू परिवारों को भोजन के पैकेट व राशन उपलब्ध कराया जिसके बाद मड़ियाहूं तहसील के पाली सुमेला गांव में जाकर लोगों का हालचाल पूछा एवं राशन वितरण की जानकारी लिया।

गांव के जब्बार ने बताया कि कोटेदार द्वारा उन्हें 7 यूनिट पर 10 किलो चावल दिया गया। इसी तरह मुर्तजा को 6 यूनिट पर 10 किलो चावल दिया गया। धन्नो ने शिकायत किया कि उनका नाम कोटे से काट दिया गया है जिस पर जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी मड़ियाहूं को निर्देश दिया कि कोटेदार के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराकर उसे तत्काल जेल भेजा जाय। इसी क्रम में जिलाधिकारी ने पाली वालों को राशन एवं भोजन के पैकेट दिया जहां तमाम लोग उपस्थित रहे।