भाजपा निषादों का अधिकार छीनने का ही किया काम: केवट रामधनी बिन्द | #TEJASTODAY

जौनपुर। जिले के मल्हनी क्षेत्र के खजुरा गांव में बड़े कदम फाउंडेशन ने मास्क वितरित किया। बतौर मुख्य अतिथि शिवांगी यादव ने समाजसेवी डा. लल्लन विश्वकर्मा के सहयोग से पूरे गांव में मास्क वितरित किया। इसके बाद फाउंडेशन द्वारा स्वच्छता अभियान के तहत कोरोना महामारी को देखते हुए गांव में सेनेटाइजर का छिड़काव कराया गया।

जौनपुर। भारतीय मानव समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष केवट रामधनी बिन्द ने 5 अगस्त को अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण के शिलान्यास समारोह में तथा कथित रामसखा निषाद राज के वंशजों को बुलाने का प्रचार करना निषादराज के वंशज निषाद, बिन्द, कश्यप, केवट, मल्लाह, मांझी, धीवर, लोधी, किसान, तुरहा, रैकवार, कोली, भोई, गंगापुत्र आदि को झूठा छलावा देने व ठगने की साजिश बताया। भाजपा ने निषादवंशजों को भ्रमित करने के लिए तथा कथित निषादराज के वंशज डाॅ. डी के कश्यप, उनकी पत्नी रीता निषाद, अनुज राजेश निषाद, शिव मोहन कश्यप एवं पीयूष कश्यप को शिल्यान्स समारोह में शामिल होने का प्रचार कर रही है।

सौरभ​ सिंह सिकरारा, जौनपुर। निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. संजय निषाद ने कहा कि आम चुनाव में पार्टी का प्रत्याशी दूसरे नम्बर पर था। निषाद पार्टी अपने सिम्बल से गठबंधन से मल्हनी का उपचुनाव लड़ेगी और विधानसभा में जाएगी। ये हमारा हक है, ये समाज और लोगो का भी हक है। पार्टी का भी हक़ है। हमने सहयोगी दल भाजपा का लगातार सहयोग किया इसलिए उनकी भी जिम्मेदारी है कि इस उपचुनाव में हमारा सहयोग करें। बुधवार को गोसाईगंज बाजार में आयोजित पत्रकार वार्ता में उन्होंने कहा कि जिसका दल होता है उसका बल होता है उसकी समस्याओं का हल होता है। 70 साल से जिन- जिन लोगो ने दल बनाया और अपनी समस्याओं का हल कर लिया। सभी समस्याओं का हल राजीतिक दल से ही सम्भव है। कहा कि जो गरीब, किसान, नौजवान है, मछुवारे है जो नदियों के किनारे बसे हुए है। जिले में कई नदियां बहती है ऐसे में हमारी संख्या बल यहां बहुत अधिक है। हमारी संख्या अधिक होने के बावजूद 70 साल से इनको घुमाया जा रहा है। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि मैं 13 जनवरी 2013 को निषादराज के किले पर संकल्प लिया। मैने 16 अगस्त 2016 में पार्टी का रजिस्टर कराया। 2017 में हमारी पार्टी 60 सीटों पर चुनाव लड़ा, जिसमे मल्हनी में हमारा प्रत्याशी रनर रहा। जबकि भाजपा यहां चौथे स्थान पर थी। 2019 में लोकसभा चुनाव में भी भाजपा का प्रत्याशी चुनाव हार गई। मल्हनी में निषाद पार्टी रनर थी। अगर आज चुनाव नही होता तो जब पहला आदमी नही रहा तो दूसरे का नम्बर वैसे ही है। इसलिए निषाद पार्टी मल्हनी चुनाव लड़ेगी। निषाद पार्टी अपने सिम्बल से चुनाव लड़ेगी और विधानसभा में जाएगी। ये हमारा हक है ये समाज और लोगो का भी हक है। पार्टी का भी हक़ है। इसीलिए सहयोगी दल भाजपा का लगातार सहयोग किया इसलिए उनकी भी जिम्मेदारी है कि इस उपचुनाव में हमारा सहयोग करे। डा. संजय निषाद ने कहा कि वे हमारे बड़े भाई तो अपने छोटे भाई को भी बड़ा करने का धर्म बनता है। अब सहयोग करे। कोरोना के कारण हम भीड़ इकठ्ठा नही कर सकते लेकिन पदाधिकारियो के माध्यम से सन्देश दे रहे है कि मतदाताओं तक आप कैसे पहुंचोगे। अपमान सहकर जो अपमान सहता है राजनीति में वही सम्मान का हकदार होता है। इसलिए मतदाताओं के पास जाओ और सही- सही बात बताओ कि भाजपा ने क्या किया है। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि लोगो को बताओ कि भाजपा ने स्वास्थ्य मंत्रालय दिया है, मत्स्य मंत्रालय दिया है, 20 हजार करोण रुपया दिया है। मछुआरों के लिए स्वास्थ्य बीमा दिया हैं, निषादराज किले को पर्यटन स्थल घोषित किया है जो चमक रहा है। उन्होंने भाजपा को बधाई दिया कि कम से कम श्रृंगेरपुर धाम की मिट्टी व निषादराज किले की मिट्टी है जहां भगवान राम को गले मिलाया, ऐसे जगह जहां भगवान राम को कष्ट में निषादराज ने गंगा पार लगाया था। वहां की मिट्टी और गंगाजल आएगा। राम मंदिर में भी निषादों का सहयोग है, सरकार बनाने में भी निषादों का सहयोग है। कहा कि जनता को जाओ समझाओ और अपने वोट को इकट्ठा करो क्योकि वोट से ही सारा पावर है। जो निष्क्रिय है उन्हें सक्रिय करेगे। और बूथ को मजबूत करेगे। ये तो पूरे प्रदेश की तैयारी चल रही है दुर्भाग्यवश यहां उपचुनाव हो रहा है। निषाद पार्टी रनर थी वही लड़ेगा। कहा कि इस सम्बंध में भाजपा नेताओं के साथ बैठक कर बातचीत में अच्छा परिणाम निकलता है।

उन्होंने कहा कि भाजपा इस परिवार को किस आधार पर निषादराज का वंशज बता रही है। जिन्हें निषादराज का वंशज प्रचारित किया जा रहा है, वे भाजपा के बन्धुआ मजदूर हैं। निषादराज के वंश से कोई ताल्लुकात नहीं है। योगी सरकार को पिछले वर्ष निषाद राज के वंश धरों का बुल्डोजर लगवाकर श्रृंगबेरपुर स्थित मकान को ध्वस्त करा दिया। अवैध कब्जा व आरसी जारी कर दिया।

जौनपुर। जिले के मल्हनी क्षेत्र के खजुरा गांव में बड़े कदम फाउंडेशन ने मास्क वितरित किया। बतौर मुख्य अतिथि शिवांगी यादव ने समाजसेवी डा. लल्लन विश्वकर्मा के सहयोग से पूरे गांव में मास्क वितरित किया। इसके बाद फाउंडेशन द्वारा स्वच्छता अभियान के तहत कोरोना महामारी को देखते हुए गांव में सेनेटाइजर का छिड़काव कराया गया।

श्री बिन्द ने बताया कि जब-जब देश व प्रदेश में भाजपा की सरकार बनी निषाद समुदाय के परम्परागत पेशों को छीनने का काम किया। भाजपा निषादों को एक बार फिर झूठा छलावा देने के लिए प्रचारित कर रही है कि निषादराज के वंशज श्रृंगबेरपुर से चांदी के कलश में गंगाजल और कुश के टोकरे में पवित्र मिट्टी लेकर श्रृंगबेरपुर से अयोध्या श्रीराम मंदिर निर्माण शिलान्यास समारोह में शामिल होंगे। उन्होंने कहा कि श्री राम-श्री निषादराज की मित्रता का हवाला देकर भाजपा ने कई बार निषादों का वोट लिया, पर निषादों को दिया क्या?

जौनपुर। भारतीय केसरिया वाहिनी के जिलाध्यक्ष राज कुमार सिंह की अध्यक्षता में पॉलिटेक्निक चौराहा स्थित कार्यालय पर बैठक आयोजित की गई। जिसमें पदाधिकारियों के सर्वसम्मति से श्रीकांत श्रीवास्तव एडवोकेट को नगर प्रवक्ता बनाया गया। श्री सिंह ने बताया कि श्रीकांत श्रीवास्तव सिविल कोर्ट में अधिवक्ता हैं। साथ ही पत्रकारिता जगत से भी जुड़े हुए हैं। इनके जुड़ने से संगठन को मजबूती मिलेगी। इस मौके पर जिला उपाध्यक्ष मनोज कुमार सिंह, जिला महासचिव संदीप दुबे, प्रमोद सिंह, प्रशांत विक्रम सिंह, दीनानाथ साहू, आशीष श्रीवास्तव, दुर्गेश ठठेरा, आशुतोष कुमार सिंह आदि उपस्थित रहे। संचालन जिला महामंत्री अतुल श्रीवास्तव ने किया।

जब-जब भाजपा की उत्तर प्रदेश में सरकार बनी तब तब निषादों के पुश्तैनी पेशों, वंशानुगत परम्परागत अधिकारों को छीनने एवं इनके साथ दोयम दर्जे का ही बर्ताव किया। जय प्रकाश निषाद भाजपा से तीसरी बार विधायक बने हैं और इन्हें राज्यमंत्री बनाया गया है। क्या यहीं निषाद समाज का व निषादराज के वंशजों का सम्मान है? योगी के गृह जिले में दर्जनों निषादों की भाजपा के सामन्तों द्वारा हत्या कर दी गयी परन्तु योगी ने कोई पुछार नहीं किया श्री केवट ने बताया कि समाजवादी पार्टी की सरकार ने 17 अतिपिछड़ी जातियों-निषाद, मल्लाह, केवट, माँझी, मछुआ, धीवर, धीमर, गोड़िया, तुरहा, बिन्द, बाथम, कश्यप, कहार, भर, राजभर, कुम्हार, प्रजापति आदि को अनुसूचित जाति में शामिल करने का केन्द्र सरकार को प्रस्ताव किया।

सिरकोनी, जौनपुर। क्षेत्र के इजरी गांव में सोमवार को सई नदी में 40 वर्षीय महिला की डूबने से मौत हो गयी। प्राप्त जानकारी के अनुसार उक्त गांव के दलित बस्ती निवासी किरन देवी पत्नी रमेश कुमार घर से कुछ दूर सई नदी के पास गई थी। वह अज्ञात कारण से नदी में गिर गयी। लोगों ने काफी खोजबीन किया, परन्तु वह नही मिली तो इसकी सूचना पुलिस को दिया गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने गोताखोरों की मदद से किरन देवी का शव कुछ देर बाद ढूंढ निकाला। जलालपुर थाना क्षेत्र के पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। घटना से परिवार में कोहराम मच गया।

साथ ही अखिलेश यादव की सरकार ने अनुसूचित जाति का प्रमाण-पत्र निर्गत करने के लिए समाज कल्याण विभाग से अधिसूचना जारी कराये और उच्च न्यायालय ने भी प्रमाण-पत्र जारी करने का निर्णय दिया, के बावजूद भी योगी सरकार नजर अंदाज किया और नये सिरे से शासनादेश जारी कर अपने ही कार्यकर्ता से स्टे करा दिया। बाद में योगी सरकार ने सपा सरकार द्वारा भेजे गये प्रस्ताव को ही निरस्त कर दिया और सामाजिक न्याय अधिकारिता मंत्री ने भी प्रस्ताव को सदैव के लिए खत्म कर निषाद समुदाय व अतिपिछड़ी जातियों के साथ धोखा किया।

जफराबाद, जौनपुर। स्थानीय थाना क्षेत्र के बीबीपुर गांव में दो बाइकों की आमने-सामने टक्कर में पिता-पुत्र घायल हो गये। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया। जानकारी के अनुसार थाना क्षेत्र के कल्याणपुर चकिया निवासी फूलचंद प्रजापति अपने बेटे दीपक के साथ मजदूरी करने जा रहे थे। वह बीबीपुर गांव के मोड़ पर पहुंचे। तभी विपरीत दिशा से अर्जुन निषाद निवासी नवाबाद जंगल बाइक से आ रहा था। दोनों की आमने-सामने टक्कर हो गई। जिसमें फूलचंद व दीपक गंभीर रूप से घायल हो गये। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

श्री केवट ने बताया कि भाजपा सरकार ने ई-टेण्डरिंग की व्यवस्था कर बालू मौरंग खनन जैसे मछुआरों के पराम्परागत पेशों को छीनकर बेकारी की स्थिति में पहुॅचा दिया। पिछले की सरकार ने लोहिया आवास योजना की भांति मछुआ आवास योजना की धनराशि 3.05 लाख कर आवासों का निर्माण कराया। मुख्यमंत्री बनते ही योगी ने खत्म कर दिया।मत्स्य पालन को कृषि के दर्जे का शासनादेश किया था, जिसे योगी सरकार ने रद्द कर दिया। मत्स्य पालन के लिए मछुआरों को मिलने वाला तालाबों का पट्टा भाजपा शासन में सामंतों को सावर्जनिक तौर पर दिया जा रहा है। अयोध्या में श्री राम जी के मंदिर का निर्माण हो रहा है सराहनीय है लेकिन श्रीराम जी के परम भक्त केवट राज जी श्रीराम जी के परम भक्त व अत्यंत चहेते थे।

विपिन मौर्या मछलीशहर, जौनपुर। स्थानीय तहसील क्षेत्र के मुंगराबादशाहपुर के तारडीह (काछीडीह) गांव में ग्रामसभा की आराजी पर अवैध कब्जा करने वाले के विरुद्ध न्यायालय तहसीलदार ने 54 हजार का जुर्माना लगाया है और बेदखली का आदेश दिया है। सात वर्ष से किये गये अवैध कब्जे की रिपोर्ट तहसीलदार न्यायालय में हल्का लेखपाल ने किया था जिसमें लम्बी सुनवाई के बाद न्यायालय ने उक्त फैसला दिया है। उक्त गांव निवासी विजय शंकर मिश्र पुत्र स्वर्गीय सत्यनारायण मिश्र पर आरोप है कि उन्होंने ग्रामसभा की आराजी पर अनाधिकार भवन निर्माण करा लिया है। सात वर्ष से किए गए कब्जे के विरुद्ध हल्का लेखपाल द्वारा रिपोर्ट तहसीलदार न्यायालय में किया गया था। जिसमें कब्जा करने वाले को नोटिस जारी हुई तथा लंबे समय तक सुनवाई चलती रही। सुनवाई के बाद न्यायालय ने आरोप सत्य पाते हुए उक्त के विरुद्ध बेदखली का आदेश एवं 54 हजार 400 रूपये क्षतिपूर्ति वसूल करने का आदेश निर्गत किया है। आदेश दिया गया कि बेदखल कर अनाधिकृत कब्जा हटाया जाए।

श्रीराम जी ने अपने राज्याभिषेक में एक मात्र केवट राज को ही निमंत्रण दिए थे उन्होंने कभी भी जाति, धर्म, भेद, भाव नहीं रखा इस लिए अयोध्या में श्रीराम जी के साथ केवट राज की मुर्ति की स्थापना होनी चाहिए। अयोध्या में बोर्ड कमेटी बनी है उसमें भी केवट को सदस्य बनाना चाहिए। मगर भाजपा सेवा के नाम पर भेदभाव नहीं करती, सम्मान के नाम पर हरवक्त भेदभाव करती है जो की बिचारणीय है। उन्होंने कहा कि अब निषाद राज के वंशज भाजपा के छल-कपट व झूठ-फरेब में आने वाले नहीं हैं।

ADD Shubham Offset Best Business Website Design & Development of Jaunpur SHUBHAM SAHU AKA “SHUBHAM MATRIX” He went on a path where he wanted to develop his own brand name as well as his agency, and it was not an easy thing to do. Shubham Sahu, aka Shubham Matrix, is known for his Digital Marketing skills. Born in Uttar Pradesh Jaunpur . shubham was avarage in studies. He studied in Yashoda Convent in Jaunpur, UP India till 7th standard. Then 8th to 12th in Dr Rizvi Learners’ Academy . https://tejastoday.com/lotus-beauty-parlour-and-boutique-center-jaunpur-uttar-pradesh/ He went on a path where he wanted to develop his own brand name as well as grow his agency jaunpur marketing, and it was not an easy thing to do. सौरभ सिंह सिकरारा, जौनपुर। स्थानीय क्षेत्र के सिकरारा थाने पर कोरोना महामारी के मद्देनजर शासन द्वारा आदेश के बावजूद भी दोपहिया सवार लोग न तो मास्क लगाकर चल रहे है न तो हेलमेट लगाकर चल रहे है। ऐसे लोगों के साथ सिकरारा पुलिस कड़ाई से पेश आ रही है, और सरकारी आदेश का पालन करते हुए दोपहिया वाहन चालकों के खिलाफ विगत कई दिनों से चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है। फिर भी दोपहिया वाहन चालक सुधरने का नाम नही ले रहे है। कोई बिना मास्क लगाए गाड़ी चला रहा है, तो कोई बिना हेलमेट के गाड़ी चला रहा है तो कोई डबल सवारियों के साथ चल रहा है। ऐसे ही लोगों को सिकरारा पुलिस ने बुधवार को चेकिंग अभियान के समय 104 गाड़ियों का चालान किया और 25000 रुपया सम्मन शुल्क वसूला और गुरुवार को दोपहर तक पुलिस नौ गाड़ियों का चालान कर चुकी थी 2100 रुपये सम्मन शुल्क वसूल चुकी थी और चेकिंग अभियान चालू था।