Friday, August 12, 2022

कोरोना वायरस से बचने के लिए सोशल मीडिया एवं प्रिंट मीडिया के माध्यम से कर रहे अपील मुस्ताक आलम

वाराणसी। स्थानीय क्षेत्र राजा तालाब आराजी लाइन इस समय पूरा विश्व कोरोना वायरस से जूझ रहा है। कोरोना वायरस को लेकर चलाए जा रहे, जागरूकता अभियान में पत्रकारों, सामाजिक संगठन और पुलिस प्रशासन द्वारा जरूरतमंद लोगों को प्रिंट मीडिया इलेक्ट्रॉनिक मीडिया यूट्यूब चैनल वेब पोर्टल के पत्रकारों ने भी लोगों को जागरूक करने के लिए रात-दिन अथक प्रयास पत्रकारों द्वारा किया जा रहा है। आज जब कोरोना वायरस के डर से लोगों के बीच में कोई अखबार नहीं पहुंच पा रहा है तो वहां पर पत्रकारों द्वारा सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों को समाचार के द्वारा सूचना और जागरूकता दी जा रही हैं। जबकि उत्तर प्रदेश सरकार व प्रशासनिक स्तर के अधिकारियों का पत्रकार भरपूर सहयोग कर रहे हैं। साथ ही अपने कर्तव्य के प्रति सजग और चौकस नजर बनाए हैं। ऐसे में प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के कर्मी भी अपने आप में मिसाल कायम कर रहे हैं और लोगों की तन-मन अपनी जान जोखिम में डालकर सेवा कर रहे हैं। पत्रकार सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों को जागरूक कर रहे हैं और मीडिया के माध्यम से लोगों में कोरोना वायरस जैसी बीमारी को लेकर अपने क्षेत्र में प्रचार-प्रसार के माध्यम से लोगों को कोरोना वायरस के बारे में बता रहे हैं और उसके बचाव करने के उपाय के बारे में भी जागरूक कर रहे हैं। पत्रकार द्वारा लोगों को यह भी बताया जा रहा है कि आसपास सफाई का ध्यान रखें और अपने हाथों को बार-बार सैनिटाइजर और साबुन से धोएं और लॉक डाउन का पालन करें। इसी कड़ी में वाराणसी राजातालाब तहसील क्षेत्र के हिंदी दैनिक समाचार पत्र के पत्रकार मुस्ताक आलम का कहना है कि मीडिया देश की तीसरी शक्ति है और देश का चौथा स्तंभ, लेकिन कोरोना महामारी के इस जंग में विकट परिस्थिति में भी जहां मीडिया अपने संसाधनों से लोगों को अपनी जान हथेली पर रखकर मीडिया के क्षेत्र में अहम भूमिका के साथ अपने दायित्व को पूरा करते नजर आ रहे हैं। इन सभी पत्रकारों और उसके परिवारों के लिए मुस्ताक आलम की अपील है कि केंद्र सरकार और राज्य सरकार पत्रकारों के लिए भी पारिवारिक दुर्घटना बीमा के साथ ही सरकार समय पर पत्रकारों को आर्थिक सहायता भी उपलब्ध कराती रहें। जिससे कि पत्रकार अपने कर्तव्य का पालन पूर्ण रूप से इस विकट महामारी में भी करते रहें।

वाराणसी। स्थानीय क्षेत्र राजा तालाब आराजी लाइन इस समय पूरा विश्व कोरोना वायरस से जूझ रहा है। कोरोना वायरस को लेकर चलाए जा रहे, जागरूकता अभियान में पत्रकारों, सामाजिक संगठन और पुलिस प्रशासन द्वारा जरूरतमंद लोगों को प्रिंट मीडिया इलेक्ट्रॉनिक मीडिया यूट्यूब चैनल वेब पोर्टल के पत्रकारों ने भी लोगों को जागरूक करने के लिए रात-दिन अथक प्रयास पत्रकारों द्वारा किया जा रहा है।

आज जब कोरोना वायरस के डर से लोगों के बीच में कोई अखबार नहीं पहुंच पा रहा है तो वहां पर पत्रकारों द्वारा सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों को समाचार के द्वारा सूचना और जागरूकता दी जा रही हैं। जबकि उत्तर प्रदेश सरकार व प्रशासनिक स्तर के अधिकारियों का पत्रकार भरपूर सहयोग कर रहे हैं। साथ ही अपने कर्तव्य के प्रति सजग और चौकस नजर बनाए हैं। ऐसे में प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के कर्मी भी अपने आप में मिसाल कायम कर रहे हैं और लोगों की तन-मन अपनी जान जोखिम में डालकर सेवा कर रहे हैं।

पत्रकार सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों को जागरूक कर रहे हैं और मीडिया के माध्यम से लोगों में कोरोना वायरस जैसी बीमारी को लेकर अपने क्षेत्र में प्रचार-प्रसार के माध्यम से लोगों को कोरोना वायरस के बारे में बता रहे हैं और उसके बचाव करने के उपाय के बारे में भी जागरूक कर रहे हैं। पत्रकार द्वारा लोगों को यह भी बताया जा रहा है कि आसपास सफाई का ध्यान रखें और अपने हाथों को बार-बार सैनिटाइजर और साबुन से धोएं और लॉक डाउन का पालन करें।

इसी कड़ी में वाराणसी राजातालाब तहसील क्षेत्र के हिंदी दैनिक समाचार पत्र के पत्रकार मुस्ताक आलम का कहना है कि मीडिया देश की तीसरी शक्ति है और देश का चौथा स्तंभ, लेकिन कोरोना महामारी के इस जंग में विकट परिस्थिति में भी जहां मीडिया अपने संसाधनों से लोगों को अपनी जान हथेली पर रखकर मीडिया के क्षेत्र में अहम भूमिका के साथ अपने दायित्व को पूरा करते नजर आ रहे हैं। इन सभी पत्रकारों और उसके परिवारों के लिए मुस्ताक आलम की अपील है कि केंद्र सरकार और राज्य सरकार पत्रकारों के लिए भी पारिवारिक दुर्घटना बीमा के साथ ही सरकार समय पर पत्रकारों को आर्थिक सहायता भी उपलब्ध कराती रहें। जिससे कि पत्रकार अपने कर्तव्य का पालन पूर्ण रूप से इस विकट महामारी में भी करते रहें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Read More

Recent